AtalHind
कैथलक्राइम

विदेश भेजने के नाम पर युवको को बंधक बनाकर पैसे ऐंठने के मामले में महिला आरोपी गिरफ्तार

विदेश भेजने के नाम पर युवको को बंधक बनाकर पैसे ऐंठने के मामले में महिला आरोपी गिरफ्तार

कैथल, 05 दिसंबर ( ) विदेश भेजने के नाम पर युवको को बंधक बनाकर पैसे ऐंठने के मामले की जांच सीआईए-1 पुलिस के एएसआई राजेश कुमार की टीम द्वारा करते हुए महिला आरोपी मधुमिता निवासी कोलकाता को दिल्ली से काबु करके गिरफ्तार कर लिया गया।

 

Advertisement

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि गांव करोड़ा निवासी वेदपाल की शिकायत अनुसार दिसंबर 2018 से उसकी जान पहचान गांव थुआ जिला जींद निवासी रमेश के साथ थी।

आरोपी रमेश ने फरवरी 2021 उसे कहा कि वह विदेश भेजने का कार्य करता है। वह उसके बेटे भूपेंद्र को अमेरिका भेज देगा। इसके लिए 42 लाख रुपये लगेंगे। कई दिन बाद रमेश फिर उसके घर गांव करोड़ा में आया और भूपेंद्र व उनके पड़ोसी राजेश को अमेरिका भेजने के लिए 80 लाख रुपये में बात तय की।

 

Advertisement

आरोपी रमेश ने विश्वास दिलाया कि एक महीने के अंदर दोनों युवकों को विदेश भेज देगा। 19 जून 2021 आरोपी उनके घर आया और पांच लाख 50 हजार रुपये ले गया। 22 अक्टूबर 2021 को रमेश व उसकी पत्नी अनीता फिर घर आए और कहने लगे बच्चों का वीजा लग गया और ढाई लाख रुपये ले गए।

 

इसी प्रकार और राशि लेकर वे दोनों युवकों को दिल्ली से कलकता ले गए जहां 3-4 दिनों तक होटल में ठीक-ठाक रखा। फिर कहने लगा कि अमेरिका की टिकट हो गई है।

Advertisement

 

आरोप है कि दोनों युवकों को फर्जी टिकेट दिखाकर इको पार्क कोलकता में किडनैप किया गया व ज्यादा मारपीट की गई। उनकी कनपटी पर गन रखकर बुलवाया गया कि वे अमेरिका पहुंच गए हैं बाकी की पेमेंट कर दें।

30 अक्तूबर को आरोपी रमेश व इसका लड़का रोहित करोड़ा आए और उससे 13 लाख रुपये ले गए। आरोपियों ने अलग-अलग समय में उनसे 68 लाख 74 हजार रुपये ले लिए। 10 नवंबर को उसके बेटे भूपेंद्र का फोन आया और कहने लगा कि आरोपियों ने उनको बंधक बनाया हुआ है।

Advertisement

 

पासपोर्ट अपने कब्जे में लिए हुए हैं। वे मौका देखकर अपनी जान बचाकर निकल आए हैं। वापस मांगने पर आरोपियों ने जल्द पैसे देने की बात कही। बाद में आरोपी ने समझौता कर दोबारा सितंबर 2022 में भूपेंद्र को विदेश भेजने की बात कही और उसे इंडोनेशिया जकार्ता भेज दिया। वहां भी उसके बेटे को भूखा प्यासा रखा गया व टॉर्चर किया।

 

Advertisement

अब आरोपियों से रुपये वापस देने की मांग की तो उन्होंने पैसे देने से साफ इंकार कर दिया व पति, पत्नी और उनके बेटे ने उसे जान से मारने की धमकियां दी है। जिस बारे थाना पूंडरी में मामला दर्ज किया गया था। मामले में पहले ही आरोपी सुनील केजरीवाल को गिरफ्तार करके 7 दिन पुलिस रिमांड हासिल किया गया है।

विदेश जाने के चाह रखने वाले युवाओं को अपने चंगुल में फंसाकर यह गिरोह कोलकाता में युवाओं को बंधक बनाकर रखता था। बंधक युवाओ के परिजनों से पैसे ऐंठे जाते थे। महिला आरोपी मधुमिता उक्त गिरोह के पैसे को लेनदेन करती थी। महिला आरोपी को न्यायालय के आदेशानुसार न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

Advertisement
Advertisement

Related posts

ये कैथल पुलिस है कहीं  भी किसी के घर में घुस कर मारपीट कर सकती है फिर कहते है पुलिस पर विश्वाश करों 

admin

डीआईपीआरओ कार्यालय के टीएएस लखबीर सिंह हुए सेवानिवृत

admin

1989 से अब तक कई सरकारें आई गई लेकिन कैथल को एक भी गोताखोर नहीं दिया ,प्रशासनिक अधिकारी भी रहे मस्त 

admin

Leave a Comment

URL