AtalHind
गुरुग्राम टॉप न्यूज़ हरियाणा

इतनी बड़ी सजा  व्यापर  में हिस्सेदार नहीं बनाया तो मारने को सरपंच पर दागी गोलियां,आरोपी भतीजा और साथी को किया काबू

इतनी बड़ी सजा
व्यापर  में हिस्सेदार नहीं बनाया तो मारने को सरपंच पर दागी गोलियां,आरोपी भतीजा और साथी को किया काबू
दोनो आरोपियों पर पहले से ही दर्ज हैं आधा दर्जन भी ज्यादा मामले
आरोपी से एक स्कूटी व एक मोटरसाइकिल पुलिस टीम द्वारा बरामद
सरपंच योगेश पर हमले यह घटना बीती 26 फरवरी की बताई गई

अटल हिन्द /फतह सिंह उजाला
गुरूग्राम। गाँव बाबूपुर के सरपंच को जान से मारने के इरादे से गोलियां दागने वाले मुख्य आरोपी को उसके एक साथी सहित अपराध शाखा पालम विहार, गुरुग्राम की पुलिस टीम के द्वारा काबू किया गया है।  पीड़ित सरपंच के भतीजे को पानी सप्लाई व बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन के काम में आरोपी को हिस्सेदार न रखने पर रंजिश में ही आरोपी ने सरपंच को गोली मारने की वारदात को अंजाम दिया था।’ आरोपियों द्वारा हत्या करने के प्रयास में प्रयोग की गई एक स्कूटी व एक मोटरसाइकिल पुलिस टीम द्वारा बरामद की गई है। आरोपियों के खिलाफ पहले भी लूट, डकैती, हत्या के प्रयास, मारपीट व अवैध हथियार रखने की वारदातों को अंजाम देने के 08 मामले दर्ज है ।
एसीपी क्राइम प्रीतपाल सांगवान ने जानकारी देते बताया कि बीती 26.फरवरी को थाना राजेन्द्रा पार्क, की पुलिस टीम को गाँव बाबुपुर के सरपंच योगेश यादव पुत्र रोशन लाल को कुछ बदमाशों के द्वारा गोली मार देने के सम्बन्ध में सूचना प्राप्त हुई। थाना राजेन्द्रा पार्क, की पुलिस टीम तुरन्त घटनास्थल पर पहुंच गई जहां पर पुलिस टीम को पता चला कि योगेश को गोली लगी है। जिसे घायल अवस्था में इलाज के लिए मणिपाल अस्पताल पालम विहार, गुरुग्राम भेजा गया है।
27.मार्च को इन्द्रप्रस्थ पार्क, दिल्ली से किया काबू
पुलिस टीम द्वारा घटनास्थल पर मौजूद साक्ष्यों को सुरक्षित  किया गया व पुलिस टीम मणिपाल अस्पताल पालम विहार, गुरुग्राम पहुंची । जहां पर पुलिस टीम ने पीङित/घायल का रुक्का व एमएलसी  प्राप्त की। जिसमें घायल योगेश को एक गोली छाती में व एक गोली पैर में लगना दर्शाया गया। पीड़ित योगेश के भतीजे अजय यादव ने शिकायत दी कि वह आरएल बिल्डवैल के नाम से कन्सट्रक्शन कंपनी का काम कर रहा है। पिछले कुछ समय से जसबीर जांघु पुत्र समुद्र सिंह निवासी गांव दौलताबाद इसको काम छोड़ने या काम में 50 प्रतिशत का हिस्सा देने व ऐसा नही करने पर उसको व परिवार को जान से मारने की धमकी दे रहा था। 26. फरवरी समय करीब 3 बजे इसके निवास स्थान ग्राम बाबुपुर में 3 युवक, जसबीर पुत्र समुद्र सिह व दो अन्य युवक आए व उसके चाचा  योगेश यादव को जान से मारने की नियत से 5 से 7 राउंड फायर किए । जिनमें से एक गोली उनकी छाती व एक गोली पैर मे लगी। गोली मारकर तीनों वहां से भाग गए। उसके बाद चाचा को अस्पताल में दाखिल करा दिया। इस मामले में कार्यवाही करते हुए निरीक्षक जोगिन्द्र सिंह, प्रभारी अपराध शाखा पालम विहार, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने अपनी समझबुझ से उपरोक्त अभियोग में जान से मारने की नियत से गोली मारने की वारदात को अंजाम देने वाले मुख्य आरोपी को उसके साथी सहित 27. मार्च को इंद्रप्रस्थ पार्क, दिल्ली से काबू करने में बङी सफलता हासिल की है। आरोपियों की पहचान जसबीर पुत्र समुद्र निवासी गाँव दौलताबाद, जिला गुरुग्राम और शक्ति उर्फ सोनू पुत्र सुरेश निवासी गाँव भापडोदा थाना आसोधा, जिला झज्जर के तौर पर की गई। आरोपियों को गिरफ्तार करके अदालत में पेश कर 03 दिन के पुलिस हिरासत रिमांड पर लिया गया।
उधार के पैैसे मांगे तो पार्टनर बनाने को कहा
आरोपियों से पुलिस पूछताछ में ज्ञात हुआ कि इस अभियोग में शिकायतकर्ता अजय यादव का पानी सप्लाई व बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन का काम है। अजय ने आरोपी जसबीर पुत्र समुद्र की बहन की शादी में आरोपी जसबीर को 10 लाख रुपए उधार दिए थे। अब अजय ने आरोपी जसबीर से उधार दिए रुपए वापस मांगे तो आरोपी जसबीर ने अजय को उसके पानी सप्लाई व बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन के काम में हिस्सेदार रखने के लिए कहा और कहा कि हिस्सेदारी के दौरान इसकी कमाई में से इसको दिए हुए 10 लाख रुपए अजय यादव अपने रख ले। अजय ने हिस्सेदारी के लिए मना कर दिया। उपरोक्त अभियोग में पीड़ित योगेश यादव शिकायतकर्ता अजय का चाचा है तथा वर्तमान में गाँव का सरपंच भी है। उपरोक्त आरोपी जसबीर को अजय ने काम में हिस्सेदार रखने के लिए मना कर दिया। जिस कारण आरोपी जसबीर उपरोक्त उपरोक्त अभियोग में पीड़ित योगेश सरपंच से रंजिश रखने लगा तथा इसने अपने उपरोक्त व अन्य साथियों के साथ मिलकर योगेश सरपंच को जान से मारने की नियत से उपरोक्त अभियोग की वारदात को अंजाम दिया। आरोपियों द्वारा  वारदात को अंजाम देने में प्रयोग की गई एक स्कूटी व एक मोटरसाइकिल पुलिस टीम द्वारा बरामद’ की गई है। दोनों आरोपी अपराधिक प्रवृति के है और इनके खिलाफ पहले भी खिलाफ विभिन्न प्रकार की संगीन वारदातों को अंजाम देने के आपराधिक मामले दर्ज है।
Advertisement

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

एक पैसे का घपला साबित करो , मुंह मांगा इनाम पाओ: बार प्रेसिडेंट

admin

महिलाओं की दो टूक प्लाट का जल्द मिले कब्जा नहीं तो बीडीपीओ ऑफिस में ही बसेरा

admin

“बेजार” से “गुलजार” हो गई आम आदमी पार्टी

atalhind

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL