AtalHind
कैथलटॉप न्यूज़हेल्थ

कैथल सिविल अस्पताल  में हंगामा , डॉक्टर पर  लगा  हीमोफीलिया पीड़ित बच्चे का इलाज न करने का आरोप

डॉ राकेश मित्तल द्वारा अभद्र व्यवहार करने तथा बच्चे क इलाज न करने का आरोप लगाया गया है। उन्होंने मामले की जांच के लिए दो सदस्यीय कमेटी गठित की है।

कैथल (atal hind) नागरिक अस्पताल में हीमोफीलिया के बच्चे के साथ एक सरकारी डॉक्टर द्वारा इलाज न करने तथा उसके परिजनों के साथ गाली गलौज करने का मामला प्रकाश में आया है।
बच्चे के पिता का आरोप है कि डॉक्टर ने बच्चे को इलाज न करते हुए उसे कमरे से बाहर निकाल दिया तथा अभद्र भाषा का भी प्रयोग किया। बच्चे के पिता रजनी कालोनी कैथल के रोहतास में पुलिस अधीक्षक कैथल और प्रधान चिकित्सा अधिकारी नागरिक अस्पताल कैथल को शिकायत सौंपकर आरोपी चिकित्स के खिलाफ मामला दर्ज करने की मांग की है।
रोहतास ने बताया कि उसका लड़का खुशी हीमोफीलिया बीमारी से पीड़ित है। कुछ समय पहले उसे स्कूल की सीढ़ियों से गिरने से सिर में चोट आई थी।
20 अगस्त को वह अपने बेटे खुशी का इलाज करवाने कैथल के नागरिक अस्पताल में लेकर आया था। वह आपातकालीन कमरे में लेकर गया तो वहां डॉक्टर राकेश मित्तल कार्यरत थे। उन्होंने उसके साथ अभद्र व्यवहार किया तथा गाली गलौज भी की।
जब वह बाहर निकल कर पुलिस सहायता के लिए 112 नंबर पर फोन मिलाने लगा तो डॉ मित्तल ने उसके हाथ से मोबाइल फोन छीन कर फेंक दिया और उसके लड़के को उठाकर बाहर फेंक दिया।
इसे लेकर जब वह नागरिक अस्पताल के प्रधान चिकित्सा अधिकारी डॉ शैलेंद्र मंगाई शैली के पास गया तो डॉक्टर पीछे से उसके लड़के को डराने धमकाने लगा।
इसके बाद डॉक्टर ने उसके बेटे का इलाज कर उसको छुट्टी दे दी। पुलिस अधीक्षक लोकेंद्र सिंह ने मामले की जांच के लिए नगराधीश को लिखा है। अब देखना यह होगा कि शिकायत पर कहां तक कार्रवाई होती है।
सीसीटीवी फुटेज खोल सकती है मामले की पोल
कैथल के नागरिक अस्पताल में करीब 5 दर्जन से अधिक सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। शिकायतकर्ता रोहतास और डॉक्टर राकेश मित्तल की कार्रवाई सीसीटीवी फुटेज में कैद हो गई है। यदि जिला प्रशासन चाहे तो सीसीटीवी फुटेज की मदद से मामले की जांच में सहयोग मिल सकता है।
जांच के लिए कमेटी गठित : शैली
नागरिक अस्पताल के प्रधान चिकित्सा अधिकारी डॉ शैलेंद्र मंगाई शैली ने बताया कि उन्हें रोहतास की शिकायत मिली है। इसमें डॉ राकेश मित्तल द्वारा अभद्र व्यवहार करने तथा बच्चे क इलाज न करने का आरोप लगाया गया है। उन्होंने मामले की जांच के लिए दो सदस्यीय कमेटी गठित की है। कमेटी की रिपोर्ट के अनुसार की आगामी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि चिकित्सक डा. राकेश मित्तल ने बताया कि रोहताश उनके इलाज की वीडियो बना रहा था तथा अभद्र व्यवहार कर रहा था।
Advertisement

Related posts

RSS को भी जब कुछ नहीं मिलता, वह बाबर, औरंगज़ेब, आदि के जुल्म की बात करने लगता है ?

admin

कैथल में  शहीदों के सम्मान में निकाली गई भव्य तिरंगा यात्रा, सांसद नायब सैनी, विधायक लीला राम, पवन सैनी रहे मौजूद

admin

अपराधी राम रहीम पर क्यों मेहरबान मनोहर सरकार ,संबंध हो तो ऐसे हो 

admin

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL