AtalHind
राष्ट्रीय

तरावड़ी जी.टी. रोड पर कुड़ा बीनने वाले ने ही की थी अपने दोस्त की डंडा मारकर हत्या

तरावड़ी जी.टी. रोड पर कुड़ा बीनने वाले ने ही की थी अपने दोस्त की डंडा मारकर हत्या
पुलिस ने सुलझाई ब्लाईंड मर्डर की गुत्थी, रेलवे स्टेशन से आरोपी को काबू गिरफ्तार
मामला :- तरावड़ी जी.टी. रोड पर एक नर्सरी के पास खून से लथपथ शव मिलने का
तरावड़ी, 21 मार्च (रोहित लामसर)।
Advertisement
बीती 17 मार्च को तरावड़ी जी.टी. रोड पर एक नर्सरी के पास हुए ब्लाईंड मर्डर की गुत्थी तरावड़ी पुलिस और सी.आई.ए.-2 पुलिस ने सुलझा ली है। पुलिस ने हत्या की वारदात को अंजाम देने वाले आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। बता दें कि सतपाल निवासी गांव तखाना ने थाना तरावड़ी में एक शिकायत दी।
जिसमें उसने बताया था कि वह गांव तखाना में ही खेती बाड़ी का काम करता है और उसने गांव तखाना में ही एक व्यक्ति से जमीन ठेके पर लेकर सब्जी की पौध तैयार की हुई है। 17 मार्च को सुबह करीब 6:30 बजे एक व्यक्ति विपिन निवासी बिहार ने शिकायतकर्ता को बताया कि उसके खेत के कोठे के आगे टीन के छप्पर के नीचे एक अज्ञात व्यक्ति खून से लथपथ हालत में पड़ा है।
जिसके बाद सतपाल उपरोक्त ने मौके पर जाकर देखा कि एक अज्ञात व्यक्ति जिसके शरीर के विभिन्न अंगों पर चोट के निशान हैं और मृत अवस्था में खून से लथपथ पड़ा है। मौके पर शराब की खाली बोतलें, एक डंडा, एक स्टील का गिलास, एक चादर व अन्य सामान भी पढ़ा था।
Advertisement
सूचना मिलने के बाद तरावड़ी पुलिस टीम ने तुरंत मौके पर पहुंच कर शव को और शव के पास पड़े सामान को भी अपने कब्जे में लिया था, इस संबंध में सतपाल के बयान पर थाना तरावड़ी में अज्ञात आरोपी के खिलाफ अज्ञात व्यक्ति की चोट मारकर हत्या करने पर धारा 302 के तहत मामला दर्ज किया गया।
पुलिस जांच में मृतक व्यक्ति की पहचान पवन निवासी गांव फारमीस गंज जिला अररिया बिहार के तौर पर हुई। सीआईए टू व थाना तरावड़ी की टीम द्वारा हत्या की वारदात को अंजाम देने वाले आरोपी शंकर पुत्र माहरगिर ऋषिदेव वासी गांव सिमराहा जिला अररिया बिहार को तरावड़ी रेलवे स्टेशन के पास से गिरफ्तार किया गया।

Tarawadi GT The garbage picker on the road had killed his friend by beating him

आरोपी से पूछताछ व अन्य साक्ष्यों के आधार पर जांच में खुलासा हुआ कि मृतक व्यक्ति व आरोपी आपस में दोनों दोस्त थे और दोनों ही कबाड़ा बीनने का काम करते थे और उस कबाडे को बेचकर रुपए कमाते थे। कमाए हुए आरोपियों को दोनों दोस्त खाना खाने व शराब पीने में खर्च कर देते थे।
Advertisement
वारदात वाली रात भी दोनों ने उक्त स्थान पर बैठकर शराब पी थी। शराब पीने के दौरान दोनों की आपस में किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई और आपस में झगड़ा हो गया।
इस बात से गुस्से में आकर आरोपी शंकर ने डंडे व लोहे की कुंडली से पवन (मृतक) उपरोक्त को चोट मारकर उसकी वारदात हत्या की वारदात को अंजाम दे दिया था और मौके से फरार हो गया था। आरोपी शंकर हत्या की वारदात को अंजाम देने के बाद फरार होने की फिराक में घूम रहा था। जिसको समय रहते करनाल पुलिस की टीमों द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपी को अदालत में पेश करके न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।
Advertisement
Advertisement

Related posts

बीजेपी राज में राजद्रोह के  326 केस दर्ज, सिर्फ़ छह में दोषी करार: गृह मंत्रालय के आंकड़े

atalhind

JNU ELECTION-जेएनयू  में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी)की करारी हार

editor

यूपी में राम मंदिर के उद्घाटन के बाद पांच राज्यों हाराष्ट्र, तेलंगाना, बिहार, मध्य प्रदेश, गुजरात और दिल्ली में सांप्रदायिक घटनाएं

editor

Leave a Comment

URL