AtalHind
गुरुग्रामटॉप न्यूज़राजनीति

जिला परिषद की चौधर 12 महिलाओं ने किया नामांकन

जिला परिषद की चौधर 12 महिलाओं ने किया नामांकन
जिला परिषद की चौधर 12 महिलाओं ने किया नामांकन
जिला परिषद की चौधर 12 महिलाओं ने किया नामांकन
जिला परिषद प्रमुख पद और वार्ड नंबर 9 एससी महिला के लिए आरक्षित
प्रत्येक वार्ड में भाजपा उम्मीदवारों के सामने पार्टी के कार्यकर्ता ही दावेदार
भाजपा  सहित एमएलए जरावता के लिए बागियों को मनाना चुनौती
नामांकन के अंतिम दिन 52 पुरूष व 36 महिलाओं के नामांकन दाखिल
फतह सिंह उजाला
गुरुग्राम/पटौदी । जिला परिषद (Zilla Parishad)प्रमुख पद अनुसूचित वर्ग की महिला के वास्ते आरक्षित होने के कारण पटौदी विधानसभा क्षेत्र में मौजूद वार्ड नंबर 9 हॉट सीट सहित राजनीति का केंद्र बना हुआ है। जिला परिषद प्रमुख, वार्ड नंबर 9 से विजेता अनुसूचित वर्ग की महिला ही बनेगी । क्योंकि जिला परिषद प्रमुख पद अनुसूचित वर्ग की महिला के लिए ही आरक्षित है । यही कारण है कि भारतीय जनता पार्टी सहित पटौदी के एमएलए एडवोकेट सत्य प्रकाश जरावता के द्वारा पूरी ताकत यहां पार्टी के अधिकृत उम्मीदवार को जिताने के लिए लगा दी गई है। इतना ही नहीं भाजपा और एमएलए जरावता के अलावा अन्य राजनेताओं के द्वारा भी वाड्र 9 से जिला परिषद प्रमुख की दावेदारी को लेकर अपने परिवार से बेटी, पत्नी या पुत्रवधु को उम्मीदवार बनाया गया है। शुक्रवार को अंतिम दिन एमएलए एडवोकेट सत्य प्रकाश जरावता ने स्वयं भाजपा की अधिकृत जिला परिषद प्रमुख के लिए उम्मीदवार मधु सारवान का नामांकन दाखिल करवाया गया ।
Chaudhar 12 women of Zilla Parishad nominated
Chaudhar 12 women of Zilla Parishad nominated
दूसरी और जिस प्रकार से भाजपा (BJP)के द्वारा विभिन्न वार्डों में टिकटों का आवंटन और उम्मीदवारों का चयन किया गया , इससे पार्टी के पुराने पदाधिकारी और कार्यकर्ता बेहद खफा और नाराज होकर शुक्रवार को अपना अपना नामांकन दाखिल करने वालों में शामिल रहे हैं । सूत्रों के मुताबिक जिस दिन भाजपा जिला इकाई के द्वारा जिला परिषद प्रमुख सहित वार्ड के अन्य उम्मीदवारों के नाम की घोषणा की गई, उस दिन केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह अपने आवास अथवा दिल्ली में उपलब्ध नहीं थे। जिला परिषद चेयरमैन प्रमुख के लिए एमएलए जरावता के द्वारा मधु सारवान के नाम का समर्थन किया गया । वही राव इंद्रजीत सिंह के द्वारा कथित रूप से अपने दो समर्थक के नाम भाजपा गुरुग्राम इकाई को भेजे गए थे। लेकिन इस मामले में एमएलए एडवोकेट सत्य प्रकाश जरावता(MLA Advocate Satya Prakash Jarawata) अपनी पसंद उम्मीदवार को जिला परिषद प्रमुख उम्मीदवार की टिकट दिलवाने में सफल रहे । यही सफलता अब एमएलए जरावता सहित जिला भाजपा इकाई के लिए जी का जंजाल भी बनती दिखाई दे रही है । इसी कड़ी में शुक्रवार को वार्ड नंबर सात में शामिल गांव मोकलवास और पुखरपुर, इन 2 गांव की पंचायत भी भाजपा के अधिकृत उम्मीदवार के खिलाफ मतदान करने का संकल्प लेकर हुई । इसी कड़ी में आगामी रविवार को एक और अन्य बड़ी महापंचायत सबसे बड़े गांव बोहड़ा कला में बुलाई गई है। यह पंचायत शुक्रवार को होना प्रस्तावित थी , लेकिन अपरिहार्य कारणों से महापंचायत को रद्द करना पड़ गया।
सबसे बड़ी चुनौती एडवोकेट प्रकाश जरावता और भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party)के सामने यह बनकर आई है कि 30 अक्टूबर नामांकन वापस लेने और चुनाव चिन्ह आवंटन होने के दिन तक प्रत्येक वार्ड से भारतीय जनता पार्टी के अधिकृत उम्मीदवार के सामने भारतीय जनता पार्टी के ही कार्यकर्ता उम्मीदवार को जैसे तैसे मनाना और पार्टी के अधिकृत उम्मीदवार के समर्थन में बिठाना दिखाई दे रही है । इस बात की उम्मीद बहुत कम है कि पुराने भाजपा कार्यकर्ता और पदाधिकारी जो कि बीते कई महीनों से चुनाव की तैयारी करते हुए अपना पसीना बहाते चले आ रहे हैं, वह चुनाव लड़ने से अपने समर्थकों के दबाव के चलते पीछे हट सकेंगे । इन हालात में साफ संकेत दिखाई दे रहे हैं कि 30 अक्टूबर के बाद मतदान होने तक भारतीय जनता पार्टी को अपने अधिकृत उम्मीदवारों के सामने पार्टी के ही कार्यकर्ता और पदाधिकारियों की चुनौती का भी सामना करना पड़ता ही रहेगा ।
 12 women of Zilla Parishad nominated
12 women of Zilla Parishad nominated
जिला परिषद के कुल 10 वार्ड है और इनमें से वार्ड नंबर 5 से लेकर 10 तक कुल 6 वार्ड केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह (Rao Inderjit Singh)और उनके स्वर्गीय पिता हरियाणा के पूर्व सीएम तथा केंद्र में मंत्री रहे राव बिरेंदर सिंह (Rao Birender Singh)के राजनीतिक किला पटौदी में ही मौजूद हैं। वार्ड नंबर 1 से 11 उम्मीदवारों के द्वारा नामांकन किया गया, महिला वार्ड नंबर 2 से सात उम्मीदवार, अनुसूचित वार्ड नंबर 3 से 12 उम्मीदवार, वार्ड नंबर 4 से सात उम्मीदवार , वार्ड नंबर 5 से 5 महिला उम्मीदवार, वार्ड नंबर 6 से 12 उम्मीदवार, महिलाओं के लिए आरक्षित वार्ड नंबर 7 से आठ उम्मीदवार, वार्ड नंबर 8 से 7 उम्मीदवार, जिला परिषद प्रमुख के निर्णायक वार्ड नंबर 9 से जो कि अनुसूचित वर्ग की महिलाओं के लिए आरक्षित है यहां से भी 12 महिला उम्मीदवारों के द्वारा अपनी दावेदारी प्रस्तुत की गई है । वार्ड नंबर 10 से भी 8 महिलाओं के द्वारा अपने नामांकन दाखिल किए गए हैं । इस प्रकार से अंतिम दिन कुल 88 नामांकन दाखिल किए गए हैं।
एमएलए एडवोकेट सत्य प्रकाश जरावता के द्वारा अपने रिकमेंडेड जिला परिषद प्रमुख पद के उम्मीदवार मधु सारवान (Madhu Sarwan)का नामांकन भरवाने से पहले वार्ड के विभिन्न गांवों के लोगों को संबोधित करते हुए उम्मीदवार मधु सारवान को अधिक से अधिक वोटों से जीत आने का भी आह्वान किया गया । जिला परिषद प्रमुख पद के लिए अनुसूचित वर्ग की महिला के लिए आरक्षित वार्ड वार्ड नंबर 9 से नामांकन दाखिल करने वालों में पूर्व एमएलए रामवीर सिंह के पुत्र वधू अनू पटौदी, पूर्व एमएलए भूपेंद्र चौधरी की पुत्री सुप्रीम कोर्ट की एडवोकेट पर्ल चौधरी, पंचायत समिति पाटोदी के पूर्व चेयरमैन तथा जननायक जनता पार्टी की टिकट से विधानसभा चुनाव लड़ चुके दीपचंद की पुत्री दीपाली चौधरी , स्वर्गीय भाजपा नेता तुलसीराम की पुत्रवधू अंजू कुमारी, एडवोकेट एस एस थिरयान की पुत्रवधू मनीषा कुमारी, सुनीता अग्रवाल पत्नी महेश कुमार, शकुंतला देवी पत्नी हरि सिंह के नाम समाचार लिखे जाने तक सामने आ चुके थे। आने वाले शनिवार और रविवार 2 दिनऐसे हैं , इन 2 दिनों में भारतीय जनता पार्टी और पार्टी के तमाम पदाधिकारियों सहित नेताओं में स्वयं एमएलए एडवोकेट सत्य प्रकाश जरावता को भाजपा के ही ऐसे कार्यकर्ता और पदाधिकारियों को मनाने के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ सकती है जोकि शुक्रवार को अंतिम दिन अपना अपना नामांकन दाखिल कर चुके हैं । सूत्रों के मुताबिक इनमें से कुछ उम्मीदवार तो ऐसे हैं जोकि हर हालत में जिला परिषद प्रमुख सहित जिला पार्षद का चुनाव लड़ने के लिए अपनी दावेदारी को वापस नहीं लेंगे ।
अब इसी कड़ी में आगामी संडे को क्षेत्र के सबसे बड़े गांव बोहड़ा कला में इस मुद्दे को लेकर भी महापंचायत बुलाई गई है कि भारतीय जनता पार्टी के द्वारा टिकट आवंटन में पुराने कार्यकर्ता और पदाधिकारियों की पूरी तरह से अनदेखी की गई । जबकि ऐसे तमाम कार्यकर्ता और पदाधिकारी बीते कई वर्षों से भारतीय जनता पार्टी के लिए रात-दिन एक किए हुए मेहनत करते आ रहे हैं । कुल मिलाकर नामांकन वापस लेने के अंतिम दिन ही सारी तस्वीर साफ हो सकेगी , जिससे यह पता लग सकेगा कि जिला परिषद प्रमुख के लिए आरक्षित वार्ड नंबर 9 से कितने उम्मीदवार मैदान में रहेंगे तथा इसके अलावा अन्य नौ विभिन्न वार्डों में पार्टी के उम्मीदवारों के लिए चुनौती प्रस्तुत करने वाले भाजपा के ही कार्यकर्ता या फिर पदाधिकारी जो अपना नामांकन दाखिल कर चुके , उनके द्वारा नामांकन वापस लिया जा सकेगा । कुल मिलाकर जो हालात बने हुए दिखाई दे रहे हैं , उससे यह इशारा भी मिल रहा है कि भारतीय जनता पार्टी और पार्टी के अधिकृत उम्मीदवारों को भीतरघात का भी सामना करना पड़ सकता है। नामांकन की इस कड़ी में सरपंच सुंदरलाल अध्यक्ष सरपंच एसोसिएशन गुरुग्राम, श्रीपाल चौहान जाटोली, कृष्ण प्रधान, मास्टर भीम सिंह, प्रदीप जैलदार, दलीप पहलवान, राजीव, दौलतराम, सरपंच अशोक खेतीयावास, नीति सरपंच, कर्मवीर पहलवान, मुकेश सरपंच गुढाना ने ने भी मधु सारवान को ज्यादा से ज्यादा मतो से जिताने की अपील की।
Advertisement

Related posts

गिरफ्तारी पर गिरफ्तारी अब 40 गिरफ्तार आखिर में अपराधी कौन ?  क्या कैथल पुलिस सिपाही पेपर लीक मामले को सुलझा पायेगी क्या  ?

atalhind

तरावड़ी-खौफनाक कदम! युवती ने लगाया छेड़छाड़ का आरोप तो दो युवकों ने जहर खाकर की आत्महत्या

atalhind

कैथल नगर निगम चुनाव बीजेपी ने किये एक तीर से दो शिकार कर खेला सुरेश नोच के साथ बड़ा खेल , प्र-ताप को भी चापलूसों से बाहर निकल जीरों ग्राउंड पर आना होगा

atalhind

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL