AtalHind
करनालक्राइमटॉप न्यूज़

तरावड़ी-नायब तहसीलदार की पत्नी मंडी सुपरवाइजर ने सरकारी क्वाटर में लगाई फांसी

तरावड़ी-नायब तहसीलदार की पत्नी मंडी सुपरवाइजर ने सरकारी क्वाटर में लगाई फांसी
कई दिनों से चल रही थी अनबन, आत्महत्या से पहले पति को किया मैसेज, डायरी पर लिखा सुसाइड नोट

पुलिस ने करवाया पोस्टमार्टम, परिजनों ने की जांच के साथ-साथ आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग

तरावड़ी, 3 जुलाई (अटल हिन्द /रोहित लामसर)। तरावड़ी मार्किट कमेटी में बतौर सुपरवाइजर के पद पर कार्यरत महिला कर्मचारी मुक्ति ने सरकारी कवाटर में संदिग्ध परिस्थितियों में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली, हालांकि मुक्ति ने आत्महत्या करने से पहले अपने पति नायब तहसीलदार अचिन को मैसेज भी किया और अपनी डायरी पर तीन पेज का सुसाइड नोट भी लिखा। बताया जा रहा है कि शनिवार की रात करीब 11 बजे तरावड़ी थाने में सूचना मिली कि तरावड़ी अनाज मंडी के पास मार्किट कमेटी कार्यालय के पीछे सरकारी क्वाटर में सुपरवाईजर महिला कर्मचारी ने आत्महत्या कर ली है।

सूचना मिलते ही डॉयल 112 पुलिस और थाना पुलिस मौके पर पहुंची, पुलिस कर्मचारी ने रात करीब साढ़े-11 बजे ही सरकारी क्वाटर का दरवाजा तोड़ा और अंदर देखा कि मुक्ति का शव पंखे और रस्सी से फंदे पर लटका हुआ था, तुरंत इसकी सूचना पुलिस प्रशासन द्वारा मंडी सुपरवाइजर मुक्ति के परिजनों के साथ-साथ उसके पति नायब तहसीलदार अचिन के परिजनों को दी गई। दोनों पक्षों के परिजन और रिश्तेदार सुबह के समय मौके पर पहुंची और मुक्ति का शव देखते ही परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल हो गया। मृतक मुक्ति के परिजनों ने मुक्ति की मौत का जिम्मेदार उसके पति नायब तहसीलदार अचिन और उसके दोस्त राजेश के साथ-साथ उसके ससुराल पक्ष को ठहराया और इस मामले में सख्त से सख्त जांच करने की भी मांग उठाई। इधर सूचना मिलते ही पुलिस प्रशासन भी मौके पर पहुंच गया था। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए करनाल के कल्पना चावला मैडिकल कॉलेज में मर्चरी हाउस में रखवा दिया है। थाना प्रभारी इंस्पेक्टर संदीप सिंह ने बताया कि सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई थी, फिलहाल शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया गया है, सुसाइड नोट लिखी गई डायरी भी पुलिस के कब्जे में है, परिजनों की शिकायत के आधार पर आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाऐगी।

बाक्स

डेढ़ साल पहले हुई थी शादी, परिजन बोले :- कई बार हुआ था दोनों में झगड़ा

काबिलेगौर है कि भिवानी के गांव धनाला की रहने वाली मुक्ति की शादी करीब डेढ़ साल पहले जींद के गांव कालका के रहने वाले अचिन के साथ हुई थी, मुक्ति तरावड़ी में मंडी सुपरवाइजर के पद पर कार्यरत थी और जींद निवासी उसका पति अचिन नायब तहसीलदार के पद पर बाढला तहसील में कार्यरत था, काफी समय से ही पति-पत्नी में अनबन चल रही थी, यही नही कुछ महीने पहले सास के साथ भी कहासुनी को लेकर झगड़ा हुआ था, जिसके बाद से विवाद बढ़ता चला गया और पति से भी अनबन हो गई। परिजनों ने आरोप लगाया कि मुक्ति का पति अचिन कई दिनों से फोन भी नहीं उठा रहा था और सही तरीके से बात भी नहीं करता था, मुक्ति को न केवल प्रताड़ित किया जा रहा था, ब्लकि उसके परेशान भी किया जाता था, जिसकी वजह से ही मुक्ति से ऐसा कदम उठाया है। उन्होंने मांग की है कि आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई अमल में लाई जानी चाहिए।

वर्जन :-

तरावड़ी थाना प्रभारी इंस्पैक्टर संदीप सिंह ने बताया कि परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने मुक्ति के पति समेत ससुराल पक्ष के अन्य लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। मुक्ति के शव का पोस्टमार्टम करवाकर उसके परिजनों को सौंप दिया गया है, फिलहाल पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।

Advertisement
Advertisement

Related posts

आधुनिक इतिहास के खूनी नरसंहारों में से एक जलियांवाला बाग 

atalhind

अगर जिन्ना देश के पहले प्रधानमंत्री बनते तो विभाजन से बच सकता था भारत : भाजपा नेता

admin

जवेनिर डॉबर्ट पैकेजिंग कंपनी में लगी भीषण आग का तांडव

atalhind

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL