AtalHind
भिवानी

किसान मजदूरों की अनदेखी भाजपा सरकारों को उखाड़ फेंकेगी-कामरेड

किसान मजदूरों की अनदेखी भाजपा सरकारों को उखाड़ फेंकेगी-कामरेड

 

संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर किसान सभा व जाटू खाप का पहला जत्था ट्रेक्टरों पर चन्डीगढ़ किसान महापड़ाव के लिए भिवानी दादरी से रवाना हुआ

Advertisement

भिवानी 25 नवम्बर , 2023(atal hind) संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर अखिल भारतीय किसान सभा व सर्व जातिय जाटू खाप का पहला जत्था ट्रेक्टरों द्वारा चन्डीगढ किसान महा पड़ाव में शामिल होने के लिए भिवानी दादरी से रवाना हुआ । जत्थे का नेतृत्व किसान सभा के भिवानी जिला प्रधान रामफल देशवाल , दादरी जिला प्रधान रणधीर सिंह कुंगड़ व जाटू खाप से बलबीर सिंह धनाना कर रहे थे ।

 

Advertisement


पहले जत्थे को रवाना करते हुए किसान सभा के राज्य कमेटी सदस्य कामरेड ओमप्रकाश ने कहा कि पंचकुला और चन्डीगढ़ किसान महापड़ाव का यह पहला जत्था है , 26 नवम्बर को जिले से सैंकड़ों किसान व मजदूर अपने अपने साधन लेकर चन्डीगढ पहचेंगे , संयुक्त किसान मोर्चे द्वारा आयोजित इस महापड़ाव का उदेश्य एमएसपी की संवैधानिक गांरटी लागू करवाना , बिजली निजिकरण विधेयक रद्द करवाना , किसानों व मजदूरों को कर्ज मुक्त करवाना ,

 

Advertisement

लखीमपुर खीरी के किसानों को न्याय दिलाना , किसान मजदूरों को 60 वर्ष बाद 10 हजार पैंशन लागू करवाना , फसत बीमा योजना किसानों के अनुरूप करवाना , बकाया पड़ा बीमा क्लेम व फसल बर्बाद मुआवजा दिलवाना , डीएपी खाद प्रयाप्त मात्रा में उपलब्ध करवाना , मजदूरों के चार कोड रद्द करे जाएं , पहले वाले जन हित कानून लागू हों , पुरानी पैंशन बहाल हो , अग्निपथ योजना रद्द हो , सेना में स्थायी भर्ती हो , कच्चे कर्मचारियों को पक्का किया जाए , केन्द्र व राज्य सरकारों में रिक्त पड़े पद भरे जाएं , शिक्षा , स्वास्थ्य तथा सार्वजनिक क्षेत्र का निजि करण बंद हो । उन्होंने कहा कि वर्तमान भाजपा सरकार उनकी इन मागों पर विचार नहीं करेगी तो पूरे देश का किसान मजदूर आगामी लोकसभा चुनावों में भाजपा को वोट नहीं देगा ।

 

Advertisement

 

विपक्ष को भी अपने चुनाव घोषणा पत्र में इन मांगों को शामिल करना होगा । आज के जत्थे में किसान नेता रामोतार बलियाली , नरेन्द्र धनाना , प्रताप सिंह सिंहमार , दलबीर सांगवान , नरेन्द्र झिंजर , अशोक आर्य एडवोकेट , महिलानेत्री कविता आर्य , सन्तोष देशवाल , महाबीर फोजी , ओम नम्बरदार चरखी , फतेहसिंह चिड़िया , लीला धनाना , अजमेर , कृष्ण , प्रकाश ग्रेवाल , सुरजीत आसलवास मरेठा , फूलसिंह देशवाल , ओम प्रकाश गोयत , ईश्वर धानक व ओमप्रकाश दलाल सहित कई किसान शामिल थे ।

Advertisement
Advertisement

Related posts

DAP के लिए अपराधियों की तरह हुई किसानों की वैरिफिकेशन

atalhind

हांसी साइबर सेल में तैनात हेड कांस्टेबल ने दो भाइयों समेत 3 को गोली मारी, बाद में खुद भी कर ली आत्महत्या

admin

हांसी साइबर सेल में तैनात हेड कांस्टेबल ने दो भाइयों समेत 3 को गोली मारी, बाद में खुद भी कर ली आत्महत्या

admin

Leave a Comment

URL