AtalHind
अम्बालाटॉप न्यूज़

विधायक वरुण चौधरी ने मुलाना नपा प्रशासन पर लगाए करोड़ों रुपए के घोटाले का आरोप

MLA Varun Chaudhary accused Mulana Napa administration of scam worth crores of rupees
MLA Varun Chaudhary accused Mulana Napa administration of scam worth crores of rupees
विधायक वरुण चौधरी ने मुलाना नपा प्रशासन पर लगाए करोड़ों रुपए के घोटाले का आरोप
ई -टेंडर प्रक्रिया को नजरअंदाज कर जनता व सरकार को लगाया गया चूना
विधानसभा में प्रश्न रखकर करेंगे विजिलेंस जांच की मांग
अम्बाला, पूर्ण सिंह
                         हलका मुलाना विधायक वरुण चौधरी ने आज मीडिया से रूबरू होकर कस्बा की नगरपालिका पर सरकार के ई- टेंडर प्रक्रिया नियमों के को नजरअंदाज कर करोड़ों रुपए की सेवाएं तथा समान खरीद कर जनता व सरकार को चूना लगाने का आरोप लगाया।
विधायक  चौधरी ने आज अपने स्थानीय कार्यालय में प्रेस वार्ता के दौरान बताया कि सरकार द्वारा उपलब्ध करवाई गई जानकारी के अनुसार गत 3 वर्षों में कस्बा के नपा प्रशासन ने ई -टेंडर प्रक्रिया नियमों का उल्लंघन करते हुए कोटेशनस के माध्यम से जेसीबी के किराए, जोहर की सफाई, क्राकरी व फर्नीचर की खरीद, चेयरमैन के कमरे के नवीनीकरण, सी.सी.टी.वी कैमरों की खरीद तथा रिपेयर , बिजली की तारे व समान, स्ट्रीट लाइट के रखरखाव, कीटनाशक की खरीद ,कंक्रीट के बैंच तथा चार्टर्ड अकाउंटेंट की सेवाएं आदि पर लाखों रुपए के बिलों का भुगतान किया गया ।MLA Varun Chaudhary accused Mulana Napa administration of scam worth crores of rupees
उन्होंने दफा प्रशासन के संदिग्ध आचरण का खुलासा करते हुए कहा कि यह भ्रष्टाचार का एक इंजन यहीं नहीं रुका तथा एक रेहडी के नाम पर उसकी कीमत के अनुपात में रिपेयर का खर्च तथा करोना काल के संकट समय में  मास्क, हैंडग्लव्स, सैनिटाइजर तथा डीजल आदि की खरीद के नाम पर लाखों रुपए के फर्जी बिल बनाकर न केवल जनता की गाढ़ी कमाई से प्राप्त राजस्व  की लूट की गई बल्कि सरकार को भी चूना लगाकर भ्रष्टाचार का एक नया कीर्तिमान स्थापित किया गया।
सरकार के ई- टेंडर प्रक्रिया नियमों को किया गया तार- तार
          विधायक ने सरकार के ई- टेंडर प्रक्रिया नियमों के संदर्भ में बताते हुए कहा कि सरकार के प्रधान सचिव द्वारा जारी आदेश अनुसार ₹1लाख रुपए या इससे अधिक की सेवा व  सामान की खरीद केवल ई- टेंडर के माध्यम से ही की जा सकती है। इसके अतिरिक्त एक ही कार्य के लिए ₹1 लाख रुपए से अधिक  सीमा के टेंडर को दो भागों में विभक्त करने पर प्रतिबंध लगाया गया है।
परंतु कस्बा कि नपा प्रशासन ने कई लाखों रुपए के बिलों को ई -टेंडर प्रक्रिया से बचने के लिए खंड- खंड करके कोटेशन प्रक्रिया के माध्यम से खरीद की गई, जो भ्रष्टाचार की ओर इंगित करता है। एक ही वर्ष में 8-8 बार फर्नीचर तथा क्रोकरी की खरीद की गई जिसमें निर्धारित नियमों की अवहेलना करके तथा उचित प्रक्रिया न अपनाकर खरीद प्रक्रिया नियमों को तार-तार किया गया तथा सामान का रजिस्टर में  इंद्राज  व फिजिकल वेरिफिकेशन भी नहीं करवाई गई।MLA Varun Chaudhary accused Mulana Napa administration of scam worth crores of rupees
विधानसभा में ध्यानाकर्षण प्रस्ताव के माध्यम से विजिलेंस की करेंगे जांच की मांग
              विधायक वरुण  चौधरी ने नपा प्रशासन तथा चेयरपर्सन  पर नियमों की अनदेखी तथा सरकारी राजस्व को खुर्द खुर्द करने के मामले की गंभीरता के दृष्टिगत आगामी विधानसभा सत्र में ध्यानाकर्षण प्रस्ताव लाकर विजिलेंस जांच की मांग करेंगे ।
चौधरी ने सरकार से निष्पक्ष जांच की मांग करते हुए तथा दोषियों के विरुद्ध कानून सम्मत कार्रवाई तथा रिकवरी करने का अनुरोध किया है ।यदि सरकार ने इस दिशा में कोई ठोस तथा सकारात्मक कार्रवाई अमल में नहीं लाई गई तो कांग्रेस पार्टी कोई अन्य कड़ा पग उठाने अथवा विकल्प पर विचार करेगी ।
फोटो कैप्शनः मीडिया को संबोधित करते  हलका मुलाना विधायक वरुण चौधरी
Advertisement

Related posts

भारत में  798 डॉक्टरों ने गंवाई जान- सिर्फ दिल्ली में 128 मौत, IMA का दावा

admin

गोवा के निवासियों ने कहा वे खुद झंडा फहराएंगे, केंद्र या राज्य सरकार का कोई प्रतिनिधि उनके अधिकार क्षेत्र में दखल दे.

atalhind

मीडिया की ओर से की गई सरकार की आलोचना नहीं हो सकती राजद्रोह

admin

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL