AtalHind
फतेहाबादहरियाणा

जाखल में वैक्सीनेशन को आए युवकों ने डाटा ऑपरेटर पर लगाए बदतमीजी के आरोप

जाखल में वैक्सीनेशन को आए युवकों ने डाटा ऑपरेटर पर लगाए बदतमीजी के आरोप
युवकों के आरोप निराधार: एसएमओ
जाखल  28 जुलाई योगेश खनेजा
Advertisement
 स्वास्थ्य केंद्र पर सोमवार को वैक्सीन लगवाने के लिए दो युवकों ने जहां डाटा ऑपरेटर पर पक्षपात का आरोप लगाया वहीं उनके साथ हुई बदतमीजी के लिए उन्होंने इसकी शिकायत जिला उपायुक्त, प्रदेश के मुख्यमंत्री और अनिल विज को दी गई है। शिकायत में युवकों ने स्टाफ पर परिचितों के पहले वैक्सीन लगाने का आरोप भी लगाया। वही हस्पताल के डाटा ऑपरेटर एवं सीएचसी जाखल के नोडल अधिकारी ने आरोप को निराधार बताते हुए उल्टा युवकों द्वारा बदतमीजी की बात कहीं गई उन्होंने भी इस संबंध में अपनी शिकायत जिला पुलिस कप्तान को दी है।
   जानकारी के अनुसार जाखल मंडी के दो युवक विनोद कुमार एवं धीरज कुमार सीएचसी पर वैक्सीन लगवाने को लेकर बुधवार सुबह 9 बजे पहुंचे। उन्होंने पत्रकारों को बताया कि वह सुबह अस्पताल खुलने से पहले आकर लाइन में लग गए थे, लेकिन 10 बजे तक उनका नंबर नहीं आया। अस्पताल में ज्यादा भीड़ भी नहीं थी सिर्फ 15 लोग होंगेे जो वैक्सीन लगवानेेेे आए हुए थे। जब हमने देखा की डाटा ऑपरेटर अपनी ड्यूटी को बखूबी नहीं निभा रहा और अपने परिचित लोगों को बुलाकर वैक्सीन लगवा रहा है। ऐसाा होता देख जब हमने अपने लिए बारी के बारे में तो वह बदतमीजी पर उतर आया। वहां पर तैनात कंप्यूटर ऑपरेटर दीपक द्वारा सरकार की धौंस दिखाकर बहुत ही ज्यादा बदतमीजी दिखाई गई। और उनसेे बोला की तुम सरकारी ड्यूटी में बाधाा डाल रहे तुम्हेंं हस्पताल से बाहर फेंक दूंगा, जिससे यह दोनों सहम गए और घबरा गए। उन्होंने घर आकर सारी कहानी बताई। इसकेे बाद युवकों के चाचा ओमप्रकाश सिंंगला ने इसकी शिकायत जहां प्रदेश के मुख्यमंत्री के ट्विटर हैंडल पर की वही जिला फतेहाबाद केे उपायुक्त और गृह मंत्री अनिल विज को  भी शिकायत लिखकर कार्रवाई की मांग की है।
क्या कहते है डाटा ऑपरेटर
Advertisement
इस बारे में सीएचसी में मौजूद डाटा ऑपरेटर दीपक ने बताया कि पंजाब में वेक्सीन खत्म होने के कारण लोग यह पहुंचकर वेक्सीन करवा रहे है। आज मेरी ड्यूटी नीचे थी। लेकिन वेक्सीन डाटा काम ऊपर अजमेर कर रहा था। और सबकी आईडी लेकर बारी निकाल जा रही थी। लेकिन जैसे ही मुझे किसी परिचित ने वेक्सीन रूम के बारे में पूछा तो मैंने रास्ता बताया ।मेरे रास्ते बताए जाने पर दोनों युवक मेरे से बदतमीजी करने लगे । जिसकी शिकायत मैंने ड्यूटी पर तैनात डॉ रिशु बंसल और एसएमओ को दी है।
क्या कहते हैं एसएमओ
इस बारे में नोडल अधिकारी डॉक्टर राजेश क्रांति ने कहा कि उनके और से तो गांव गांव में जाकर शिविर लगाकर लोगों को वैक्सीनेशन किया जा रहा है। अब लोग हस्पताल में पहुंचकर वेक्सीन लगवा रहे हैं ऐसे में उन से क्या दुश्मनी थी। उनके यह आरोप निराधार हैं। यहां पर आए दिन वैक्सीन करवाने पहुंच रहे युवा कर्मचारियों के साथ बदतमीजी कर रहे हैं इसीलिए उनकी और से पुलिस कप्तान को पत्र लिख कर यह पर पुलिस प्रोटेक्शन मांगी है।
Advertisement
Advertisement

Related posts

मुझे फोन आ रहे हैं कि उन्हें [किसानों] से सख्ती से निपटने की जरूरत है. लेकिन हम संयम बरत रहे हैं क्योंकि वे हमारे लोग हैं-मनोहर लाल

admin

कैथल डीसी संगीता तेतरवाल   बोली उपमंडल विजिलेंस कमेटी करें चल रहे कार्यों की जांच करके लें सैम्पल

atalhind

हरियाणा सरकार की हेराफेरी,चालबाजी ना जी ना ,ये सिर्फ आंकड़ें है बेशक कितने ही झूठे क्यों ना हो ,बीजेपी और झूठ ऐसा कैसे हो सकता है ?

admin

Leave a Comment

URL