Atal hind
कैथल क्राइम टॉप न्यूज़

गिरफ्तारी पर गिरफ्तारी अब 40 गिरफ्तार आखिर में अपराधी कौन ?  क्या कैथल पुलिस सिपाही पेपर लीक मामले को सुलझा पायेगी क्या  ?

गिरफ्तारी पर गिरफ्तारी अब 40 गिरफ्तार आखिर में अपराधी कौन ?  क्या कैथल पुलिस सिपाही पेपर लीक मामले को सुलझा पायेगी क्या  ?
कैथल में हुए सिपाही पेपर लीक मामले में 2 लाख रुपए का इनामी अपराधी मोबमद अफजल सीआईए-2 पुलिस द्वारा दिल्ली से गिरफ्तार,
अब तक कुल 40 आरोपी किए जा चुके गिरफ्तार
कैथल  , 17 सितंबर (अटल हिन्द/राजकुमार अग्रवाल   )
बहुचर्चित कैथल सिपाही पेपर लीक घटना को हुए ज्यों ज्यों समय बीतता जा रहा है त्यों त्यों मामला उलझता दिखाई दे रहा है क्योंकि कैथल पुलिस लगातार प्रयास कर रही है कि  सिपाही पेपर लीक मामले को जल्दी से जल्दी सुलझाया जाए लेकिन जिस तरह हर रोज गिरफ्तारी पर गिरफ्तारी हो रही है उसे देखते हुए लग रहा है कि 40 लोगों की गिरफ्तारी होने के बाद भी यह सिपाही पेपर लीक मामला सुलझता दिखाई नहीं दे रहा।
सिपाही पेपर लीक होने घटना ने जहाँ हरियाणा सरकार की किरकिरी करवाई वही कैथल पुलिस की भूमिका पर भी सवाल उठने पर कैथल पुलिस ने सक्रियता दिखाते हुए कई लोगों को गिरफ्तार कर मीडिया  पेश कर वाहवाही लूटनी चाही लेकिन आज तक सिर्फ गिरफ्तारियों  के अलावा  कुछ हाथ नहीं लगा .
क्या कैथल पुलिस द्वारा गिरफ्तार 40 लोग मात्र मोहरे है या फिर कैथल पुलिस को  गिरफ्तार हुए 40 लोग पूछताछ में गुमराह कर असली अपराधी को बचाने में लगे है क्योंकि कैथल में घटित सिपाही परीक्षा पेपर लीक होना कोई छोटी मोटी वारदात नहीं बल्कि यह मामला हाईप्रोफाइल हो चूका है बावजूद इसके कैथल पुलिस की मेहनत रंग नहीं ला रही या फिर मामला कुछ ज्यादा ही संगीन है जिसकी वजह से कैथल पुलिस असली अपराधी से दूर है।
कैथल पुलिस द्वारा दी जानकारी के अनुसार   हरियाणा पुलिस सिपाही पेपर लीक मामले में एसपी लोकेंद्र सिंह के कुशल मार्गदर्शन अंतर्गत कैथल सीआईए-2 पुलिस द्वारा निरंतर बडी कामयाबी हासिल करते हुए उक्त मामले में वांछित 2 लाख रुपए के इनामी अपराधी को दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया गया। उक्त मामले में कैथल पुलिस द्वारा अब तक कुल 40 आरोपी गिरफ्तार किए जा चुके है।
पुलिस अधीक्षक लोकेंद्र सिंह ने व्यापक जानकारी देते हुए बताया कि सीआईए-2 प्रभारी इंस्पेक्टर सोमबीर सिंह की टीम द्वारा एक गुप्त सूचना मिलने उपरांत सिपाही पेपर लीक मामले की अहम कडी तथा 2 लाख रुपए के ईनामी आरोपी मोहमद अफजल दार निवासी वसीम बाग हजरत बल श्रीनगर को दिल्ली एयरपोर्ट के पास से काबू करके गिरफ्तार कर लिया गया।
एसपी ने बताया कि पहले गिरफ्तार किए जा चुके आरोपी जितेन्द्र निवासी गांव सिन्धरा तहसील भाला जिला डोडा जम्मू 2 अगस्त को हार्ड कॉपी करके अपने घर पर रख ली जिसको 6 लाख रुपये में मुजफर अहमद को देनी थी। पैसे परीक्षा के बाद लेने थे। जिसने 3 अगस्त को पेपर व आंसर-की हार्ड कापी मुजफफर अहमद खान निवासी गुल जिला रामबन जम्मू को दे दी।
जो आगे ऐजाज अमीन ने 5 अगस्त को ही प्रश्न पत्र व आंसर की जम्मू एयरपोर्ट पर अफजल निवासी हजरत बल श्रीनगर को दी जो सौदा 60 लाख मे तय हुआ। पैसे परीक्षा के बाद देने थे और 60 लाख में मुजफर व एजाज का बराबर का हिस्सा था। फिर अफजल की मुलाकात नजीर अहमद खांडे द्वारा आरोपी राजकुमार निवासी खाण्डा खेड़ी जिला हिसार से करवाई गई तथा आरोपी अफजल द्वारा एक करोड रुपये में पेपर व आंसर की दिनांक 5 अगस्त को ही दिल्ली एयरपोर्ट पर आरोपी राजकुमार निवासी खांडा खेड़ी जिला हिसार को दी गई।
आरोपी राजकुमार द्वारा आरोपी अफजल को 5 लाख रुपये नकद दिये तथा बाकी रुपये पेपर होने के बाद दिनांक 9/10 अगस्त को देने बारे बात कही गई। फिर आरोपी राजकुमार ने पेपर व आंसर की अपने दोस्त वेद प्रकाश निवासी रिटोली जिला रोहतक को एक करोड रुपये में दी गई। आरोपी राजकुमार उपरोक्त ने अपने भाई कुलदीप के माध्यम से 6 अगस्त की शाम पेपर व आंसर की एक करोड रुपये में आरोपी नरेन्द्र निवासी माजरा प्यो जिला हिसार को दी गई।
एसपी ने बताया कि पुलिस महानिदेशक हरियाणा पंचकूला द्वारा उक्त मामले में वांछित 2 आरोपियों की गिरफ्तारी की सूचना देने पर 2-2 लाख रुपए इनाम तथा 9 आरोपियों की गिरफ्तारी की सूचना देने पर 50-50 हजार रुपए इनाम घोषित किया गया था। 2 लाख रुपए के इनामी अपराधी मुजफफर अहमद को पुलिस द्वारा पहले ही गिरफ्तार करके आरोपी का न्यायालय से पुलिस रिमांड हासिल किया गया था,
जबकि आरोपी मोहमद अफजल की गिरफ्तारी बकाया थी। इसके अतिरिक्त 50-50 हजार रुपए के इनामी अपराधी वेद प्रकाश निवासी रिटोली जिला रोहतक, रमेश निवासी खुडाना जिला महेंद्रगढ़, प्रदीप निवासी हिसार, निहाल सिंह व मनोहर दोनों निवासी ढाणी खुशहाल जिला भिवानी तथा नवीन निवासी माजरा प्यो को भी कैथल पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया जा चुका है। एसपी ने बताया कि पुलिस रिमांड पर चल रहे आरोपी 2 लाख रुपए के इनामी आरोपी मुजफफर अहमद के कब्जे से सीआईए-2 पुलिस द्वारा वारदात में प्रयुक्त 2 मोबाइल फोन तथा पुलिस रिमांड पर चल रहे 50 हजार रुपए के इनामी आरोपी वेद प्रकाश के कब्जे से भी वारदात में प्रयुक्त 2 मोबाईल फोन बरामद किए गए है।
आरोपी मुजफफर अहमद तथा वेद प्रकाश को शुक्रवार को न्यायालय के आदेशानुसार न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया जबकि आरोपी मोहमद अफजल का व्यापक पूछताछ के लिए न्यायालय से पुलिस रिमांड हासिल किया जाएगा। बता दें कि कैथल सीआईए-1 पुलिस की टीम द्वारा 7 अगस्त को माता गेट कैथल के पास से हरियाणा पुलिस सिपाही लिखित परीक्षा लीक करवाने के मामले में संदीप व गौतम दोनो निवासी खापड जिला जींद तथा नवीन निवासी प्यौदा को एन्सवर की सहित काबू किया गया था। एसपी ने बताया कि उक्त मामले में पुलिस द्वारा अब तक मुख्यारोपी सहित कुल 40 आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

मोदी के लिए जन्मदिन का ‘गिफ्ट’, सरकार ने आंकड़ों में हेरफेर की- रिपोर्ट

atalhind

मृतकों को नदियों में बहाने का चलन रहा है

admin

ना हरयाणा सरकार ना 112 काम आया ,जीन्द विकास संगठन मौके पर पहुंचा,यात्रियों को बाहर निकाला,खाने पीने का सामान दिलाया

admin

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL