Atal hind
कुरुक्षेत्र टॉप न्यूज़ हेल्थ

पेहवा के एकमात्र हार्ट अस्पताल के स्टाफ का कारनामा,

पेहवा के एकमात्र हार्ट अस्पताल के स्टाफ का कारनामा,   शराब व मांस का दिन के उजाले में हो रहा था सेवन,मरीजों की होती है अनदेखी
पिहोवा 3 अक्टूबर(पृथ्वी सिंह) :-


निजी अस्पतालों में सुविधा के लालच में लोग सरकारी अस्पतालों में इलाज करवाने से झिझकते हैं,क्योंकि लोगों में आज भी धारणा है कि निजी अस्पतालों में सुविधाएं बहुत जल्दी मिल जाती हैं। लेकिन उस समय लोगों को आश्चर्य हुआ जब उन्हें पता चला कि अरुणाय रोड स्थित हस्पताल में ह्रदय रोगी दवाई लेने के लिए भटकता रहा,जबकि जिम्मेवार स्टाफ ड्यूटी करने की बजाय शराब व मांस खाने में मशगूल थे।  पीड़ित मरीज की सहायता से शराब व मांस का सेवन करते हुए स्टाफ की मीडिया कर्मी ने पूरी वीडियो बना ली। जब मीडिया कर्मी वीडियो बनाते हुये उनकी ओर गया तो वे सभी बारी बारी कमरे से दूसरे कमरे में निकल गए,लेकिन सब कुछ कैमरे में कैद हो गया और मौके से । पीड़ित मरीज प्रदीप कुमार ने बताया कि उसने लगभग 6 माह पहले इसी निजी हस्पताल से स्टेंट डलवाया था,इसलिए उसे डॉक्टर के मुताबिक चैक करवाना पड़ता है। लेकिन अब काफी समय से डॉक्टर उन्हें नहीं मिले। जब वह हर बार की भांति हस्पताल पहुंचा तो देखा कि दिन के उजाले में स्टाफ के लोग शराब के नशे में मशगूल थे और मीडिया के पहुंचते ही वहां से दूसरे कमरे में चले गए। पीड़ित मरीज ने बताया कि हर बार डॉक्टर की अनुपस्थिति से उसे दवाई रिपीट करनी पड़ती है,जिससे उसे नुकसान हो सकता है।उन्होंने मांग की ऐसे हस्पताल को बन्द करके सभ्य लोगों को हस्पताल की कमान दी जाए।
सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे बाबा मनी सिंह ने बताया कि उनकी धार्मिक संस्था ने हस्पताल की बिल्डिंग लीज पर दी हुई है,जिसमें ह्रदय रोगों का इलाज होता है। आसपास के लोगों को समय रहते सुविधा मिल जाती है,क्योंकि हार्ट हस्पताल 25 किलोमीटर की दूरी पर हैं। उन्होंने कहा कि हस्पताल में सरेआम शराब मांस का सेवन करने वाले स्टाफ के खिलाफ सख्त कार्यवाही करते यहां से बाहर कर दिया जाएगा। हस्पताल में काबिल डॉक्टरों को रखा जाएगा ताकि हल्के के लोगों को सुविधा मिल सके।

Advertisement

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

GST को लेकर सरकार का बड़ा फैसला, अब देरी से मंथली रिटर्न फाइल करने पर नहीं लगेगी कोई पेनाल्टी

admin

पानी पिलाकर लाठी-डंडे बरसाते रहे बदमाश,युवक की हत्या का वीडियो वायरल

atalhind

प्राईवेट डिवलेपर कॉलोनियों में बिजली के लिए नई पॉलिसी: सीएम

atalhind

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL