AtalHind
टॉप न्यूज़ राष्ट्रीय

बीते 20 सालों में हिंदुओं की तुलना में मुस्लिम आबादी घटीः रिपोर्ट

बीते 20 सालों में हिंदुओं की तुलना में मुस्लिम आबादी घटीः रिपोर्ट

नई दिल्लीः भारत में 1991 से 2001 के बीच और फिर 2001 से 2011 के बीच हिंदुओं की तुलना में मुस्लिम आबादी तेजी से बढ़ी है लेकिन इन दो दशकों में हिंदुओं की तुलना में मुस्लिमों की वृद्धि दर अधिक तेजी से घटी है.
टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, देश के सभी प्रमुख धार्मिक समुदायों में इन दोनों दशकों के दौरान आबादी वृद्धि दर में सबसे कम गिरावट हिंदुओं की हुई है जबकि जैन और बौद्ध जैसे छोटे समुदायों की आबादी तेजी से घटी है.
1991 की जनगणना में जम्मू एवं कश्मीर को शामिल नहीं किया गया था. जम्मू कश्मीर को छोड़कर 1991 से 2001 के बीच देश की कुल आबादी 1999 की तुलना में 2001 में 21.5 फीसदी बढ़ी है लेकिन 2001 से 2011 के बीच यह 17.7 फीसदी घटी है.
हिंदू आबादी की वृद्धि दर में गिरावट 3.1 प्रतिशत अंक के साथ 19.9 फीसदी से घटकर 16.8 फीसदी रही. यह एकमात्र बड़ा समुदाय है, जिसकी जनसंख्या में गिरावट राष्ट्रीय औसत से कम रही है.
मुस्लिम जनसंख्या वृद्धि दर 4.7 प्रतिशत अंक गिरकर 29.3 फीसदी से घटकर 24.6 फीसदी रही जबकि ईसाई, सिख, बौद्ध और जैन आबादी में सबसे अधिक गिरावट देखी गई.
आर्थिक वर्ग और शिक्षा विशेष रूप से मां की शिक्षा का स्तर प्रजनन क्षमता और जनसंख्या वृद्धि का सबसे बड़ा निर्धारक है. धर्म सबसे कमतर कारक है.
Advertisement

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

ना हरयाणा सरकार ना 112 काम आया ,जीन्द विकास संगठन मौके पर पहुंचा,यात्रियों को बाहर निकाला,खाने पीने का सामान दिलाया

admin

मीडिया की ओर से की गई सरकार की आलोचना नहीं हो सकती राजद्रोह

admin

खापों की तल्ख़ी का फ़ायदा किस सियासी दल को?

atalhind

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL