AtalHind
क्राइमटॉप न्यूज़हरियाणा

हरियाणा पुलिस के निशाने पर रहे कुख्यात अपराधी

प्रशांत कुमार अग्रवाल
प्रशांत कुमार अग्रवाल
हरियाणा पुलिस के निशाने पर रहे कुख्यात अपराधी
334 मोस्ट वांटेड सहित 11000 से अधिक पीओ और बेल जंपर्स को किया गिरफ्तार-पुलिस महानिदेशक
अटल हिन्द /मोहित कोछड़
चंडीगढ़ – हरियाणा पुलिस ने गत वर्ष कुख्यात अपराधियों पर कड़ी कार्रवाई करते हुए 334 मोस्ट वांटेड व इनामी अपराधियों को गिरफ्तार कर उनके अंजाम तक पहुंचाया। इसके अतिरिक्त, 11,463 उद्घोषित अपराधियों और बेल जंपर्स को भी काबू किया गया।
हरियाणा पुलिस महानिदेशक  प्रशांत कुमार अग्रवाल ने आज इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि गिरफ्तार किए गए कुख्यात अपराधी न केवल हत्या, हत्या के प्रयास, रंगदारी, फिरौती के लिए अपहरण, लूट, डकैती जैसे जघन्य अपराधों में शामिल थे, बल्कि इनकी गिरफ्तारी पर 5000 रुपये से लेकर एक लाख रुपये से अधिक तक का इनाम भी था। इन अपराधियों की गिरफ्तारी से जघन्य अपराधों के सैकड़ों मामलों को सुलझाने के साथ-साथ पुलिस कई अपराधों पर अंकुश लगाते हुए क्राइम की रफ़तार पर रोक लगाने में भी कामयाब रही।
हर माह औसतन 956 पीओ/बेल जंपर्स काबू
सालभर कानून तोडऩे वालों, बुरे व असामाजिक तत्वों के खिलाफ चले एक सतत अभियान में 6,552 पीओ और 4,911 बेल जंपर्स को भी गिरफ्तार किया गया। इनमें से जहां 951 पीओ और 912 बेल जंपर्स स्टेट क्राइम ब्रांच के हत्थे चढ़े वहीं 5,601 पीओ और 3,999 बेल जंपर्स को पुलिस की फील्ड यूनिट्स ने गिरफ्तार किया। हर महीने औसतन 546 पीओ और 410 बेल जम्पर्स को गिरफ्तार कर उनके अंजाम तक पहुंचाया गया।
पुलिस टीमों ने इन अपराधियों की आवाजाही और गतिविधियों पर पैनी नजर रखने के लिए अदालतों और अन्य सूचनाओं/सूत्रों से डेटा एकत्र करके ऐसे सभी भगोड़े अपराधियों की पहचान की। गिरफ्तार किए गए पीओ और बेल जंपर्स में से कई लंबे समय से फरार थे। सबसे ज्यादा गिरफ्तारी फरीदाबाद जिले में हुई, जहां सर्वाधिक 43 मोस्ट वांटेड अपराधियों को पुलिस ने काबू किया। इसके बाद महेंद्रगढ़ में 40, पलवल जिले में 28, सोनीपत में 26, रोहतक में 24 तथा गुरुग्राम और कुरुक्षेत्र में 21-21 मोस्ट वांटेड को गिरफ्तार किया गया।
अपराध जगत के ऐसे कुख्यात क्रिमिनल की गिरफ्तारी के लिए खुफिया जानकारी प्रदान करने वाले मुखबिरों को 24.80 लाख रुपये की इनामी राशि दी गई। संगठित अपराध से निपटने के लिए गठित हमारी स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने भी इनकी गिरफ्तारी में बेहतर कार्य करते हुए सराहनीय भूमिका निभाई।
इस साल अपराधियों पर बड़ी कार्रवाई की तैयारी
डीजीपी ने अपराधियों को कड़ी चेतावनी जारी करते हुए कहा कि प्रदेश में अपराध और आपराधिक तत्वों के लिए कोई स्थान नहीं है। हमारी टीमों ने कई ऐसे मोस्ट वांटेड अपराधियों की पहचान भी की है जो हरियाणा और पड़ोसी राज्यों में अपनी आपराधिक गतिविधियों को फैला रहे हैं। हम इस वर्ष ऐसे सभी अपराधियों व आपराधिक तत्वों पर शिकंजा कसते हुए इनकी गिरफ्तारी के लिए बड़ी कार्रवाई करने की तैयारी कर रहे है
Advertisement

Related posts

हरियाणा पुलिस सिपाही पेपर को सार्वजनिक करने वाला मुख्य आरोपी सहित 28 को किया जा चूका है गिरफ्तार ,कैथल पुलिस का दावा 

atalhind

जब किसी नेता की सियासी मौत आती है तो वह कांग्रेस हाईकमान को आंख दिखाता है।

atalhind

हरियाणा सरकार का दावा, उनके राजस्व रिकॉर्ड में ‘अरावली’ नाम का कोई शब्द नहीं है

atalhind

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL