Atal hind
कैथल जॉब टॉप न्यूज़

कैथल जिले के अधिकारी आखिर करते है अपने आलीशान दफ्तरों में,नई की बात तो दूर पुराणी जन समस्याएं भी नहीं कर रहे हल ?

कैथल जिले के अधिकारी आखिर करते है अपने आलीशान दफ्तरों में,नई की बात तो दूर पुराणी जन समस्याएं भी नहीं कर रहे हल ?
जिला कष्ट निवारण समिति की बैठक में 9 मामलों का हुआ समाधान, संबंधित अधिकारी जोहड़ से अवैध कब्जों को हटवाने का कार्य करें तेज : डीसी प्रदीप दहिया
डीसी प्रदीप दहिया की अध्यक्षता में हुई जिला कष्ट निवारण समिति की बैठक, 7 पेंडिंग मामलों को सुना जाएगा अगली बैठक में
कैथल, 9 सितंबर (अटल हिन्द /राजकुमार अग्रवाल )

उपायुक्त प्रदीप दहिया ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों से जोहड़ों पर कब्जों की शिकायतें जिला प्रशासन के संज्ञान में आ रही है, इसलिए सभी ग्रामीणों से अपील है कि समय रहते जोहड़ से अवैध कब्जे हटा लें और संबंधित अधिकारी कब्जे हटवाने का कार्य तेज करें। अधिकतर गांवों में पानी निकासी की समस्या का कारण अवैध कब्जे भी है। संबंधित अधिकारी भविष्य में मानसून से पहले जोहड़ों को खाली करना सुनिश्चित करें, ताकि गांवों में बरसात होने पर जलभराव की स्थिति न बनें।
उपायुक्त प्रदीप दहिया वीरवार को लघु सचिवालय स्थित ईवीएम वेयर हाउस में जिला कष्ट निवारण समिति की बैठक की अध्यक्षता करने के दौरान बोल रहे थे। उपायुक्त ने बैठक में पुरानी व नई 16 शिकायतों को सुना, जिसमें 7  पुरानी शिकायतों में से 4 मामलों का समाधान किया, जबकि 9 नई शिकायतों में 5 मामलों का समाधान किया। पुरानी व नई शिकायतों को मिलाकर 7 मामले लंबित हैं, जिन्हें अगली बैठक में सुना जाएगा।
उपायुक्त प्रदीप दहिया ने गांव संगरौली निवासी सतपाल की अवैध कब्जे से संबंधित शिकायत सुन रहे थे। जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी जसविंदर सिंह ने मामले में कार्रवाई करते हुए संगरौली गांव में तालाब पर नाजायज कब्जे का हटवा दिया है। कब्जाधारियों के खिलाफ कार्रवाई को लेकर उपायुक्त द्वारा संबंधित बीडीपीओ फूल सिंह को पूर्ण जांच करने के निर्देश दिए।
बाकल गांव निवासी बलिहार सिंह ने शिकायत की कि सीआईए स्टाफ द्वारा उन्हें चोरी के मामले में उठाकर थर्ड डिग्री टॉर्चर किया गया, जिसके लिए उपायुक्त ने अगली बैठक में संबंधित अधिकारी को मौके पर मौजूद रहने के निर्देश दिए हैं। डीग गांव निवासी बलजीत ने बिजली कर्मचारियों के खिलाफ दुर्व्यवहार करने व बिजली डिफाल्टर को किसी दूसरे के नाम पर बिजली कनेक्शन जारी करने की शिकायत दी थी, जिस पर उपायुक्त ने यूएचबीवीएन के अधीक्षक अभियंता को मामले में जांच करने के निर्देश दिए।
कैथल वार्ड नंबर 29 के रहने वाले रघुबीर सिंह ने शिकायत की थी कि उसे लाडली स्कीम के तहत पेंशन मिलती थी। उसकी 60 साल से अधिक उम्र होने के बाद उसकी पेंशन लाडली स्कीम से बुढ़ापा पेंशन में बदल दी गई, लेकिन 6 महीने से उसे बुढ़ापा पेंशन नहीं मिली है, जिसकी रिकवरी की मांग उनकी तरफ से की गई। मामले में उपायुक्त ने जिला समाज कल्याण अधिकारी को पिछले 6 महीने की लंबित पेंशन को जारी करने के निर्देश दिए।
आहूं गांव के चांदी राम ने गांव से शराब के ठेके को शिफ्ट करने की मांग की थी, जिसे उप आबकारी एवं कराधान विभाग द्वारा कार्रवाई करते हुए ठेके को शिफ्ट कर दिया गया है, जिससे शिकायतकर्ता संतुष्टï है। ढूंढवा के बजिंदर व दयौहरा गांव की बाला देवी द्वारा खराब फसल के मुआवजे की मांग को लेकर शिकायत की थी, जिसमें उप निदेशक डॉ. करमचंद ने कहा कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत मुआवजा उन किसानों को मिलता है, जिन्होंने किसी बैंक से फसल बीमा करवाया हो या लोन लिया हो।

संबंधित शिकायतकर्ताओं ने फसल का कोई बीमा नहीं करवाया था, इस वजह से यह दोनों इसके पात्र नहीं हैं। गांव खेड़ी गुलाम गांव के बलजीत सिंह ने शिकायत की थी कि उसने धान की फसल आढ़ती को बेची, जिसमें आढ़ती द्वारा पूरे पैसे नहीं दिए और पैसे देने से इनकार कर रहा है। इस मामले को लेकर उपायुक्त ने डीएमईओ को जांच करने के निर्देश दिए। पहले से लंबित मोनू बत्तरा द्वारा दी गई शिकायत के संदर्भ में उपायुक्त ने जिला शिक्षा अधिकारी से उनके द्वारा की गई कार्रवाई को सुना और शिकायतकर्ता को फीस जमा करवाने को कहा।

शिकायतकर्ता ने स्कूल के सिक्योरिटी गार्ड पर मारपीट का आरोप लगाया, जिसके लिए मौके पर मौजूद डीएसपी को जांच उपरांत कार्रवाई करने के निर्देश दिए। गांव पिलनी निवासी राजकुमार ने शिकायत की थी कि उन्हें 100 गज का प्लाट अलाट किया गया था, प्लाट में बिजली का टावर लगा हुआ है।

Advertisement
उन्होंने अनुरोध किया था कि उस प्लाट की जगह दूसरा प्लाट अलाट करें। मामले में उपायुक्त ने डीडीपीओ को जांच करने व सीटीएम को रिपोर्ट तैयार करने के निर्देश दिए। पूंडरी के रहने वाले प्रेम चंद ने प्लाट की कम्पाउंड फीस वापिस दिलवाने को लेकर शिकायत की थी, जिसमें उपायुक्त द्वारा संबंधित संपदा अधिकारी को उच्च अधिकारियों से बातचीत कर कार्रवाई के निर्देश दिए। इसके अलावा तारागढ़ के बलदेवा, सीवन निवासी बलराम, जसवंती गांव के बलविंदर सिंह की शिकायतों को भी सुना गया।
इस मौके पर अतिरिक्त उपायुक्त समवर्तक सिंह, एसडीएम संजय सिंह, नवीन कुमार, वीरेंद्र ढुल, सीटीएम अमित कुमार, नगर आयुक्त कुलधीर सिंह, अधीक्षक अभियंता बीएस रंगा, अशोक खंडुजा, एमडी शुगर मिल प्रीतपाल सिंह, आरटीए सत्यवान सिंह के अलावा अन्य विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री होने का नैतिक अधिकार खो चुके हैं

admin

1989 से अब तक कई सरकारें आई गई लेकिन कैथल को एक भी गोताखोर नहीं दिया ,प्रशासनिक अधिकारी भी रहे मस्त 

atalhind

जानबूझकर चुना था खास दिन,दिया गया 50 लाख रुपए का लालच , दीप सिद्धू ने भीड़ को उकसाया

admin

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL