Atal hind
कैथल क्राइम टॉप न्यूज़

हरियाणा पुलिस सिपाही पेपर को सार्वजनिक करने वाला मुख्य आरोपी सहित 28 को किया जा चूका है गिरफ्तार ,कैथल पुलिस का दावा 

हरियाणा पुलिस सिपाही पेपर को सार्वजनिक करने वाला मुख्य आरोपी सहित 28 को किया जा चूका है गिरफ्तार ,कैथल पुलिस का दावा,आरोपी नरेंद्र द्वारा रमेश को आंसर की उपलब्ध करवाई गई थी। एसपी ने बताया कि उक्त मामले में पुलिस द्वारा अब तक  कुल 28 आरोपियों को गिरफ्तार करके 30 मोबाईल फोन, 4 गाडी, 18 लाख 87 हजार रुपये नकदी, दो खाली चैक, लैपटॉप, कंप्यूटर, सीपीयू व रंगीन प्रिंटर तथा अन्य डोक्युमेन्ट बरामद किए जा चुके है।
कैथल, 24 अगस्त ( अटल हिन्द ब्यूरो    )
कार्यालय पुलिस अधीक्षक में आयोजित प्रैस वार्ता दौरान एसपी लोकेंद्र सिंह ने बताया कि हरियाणा पुलिस सिपाही परीक्षा लीक करने के मामले में डीएसपी विवेक चौधरी की अगुवाई में गठित एसआईटी द्वारा मुख्य आरोपी सहित 3 आरोपी गिरफ्तार किए गए है। पुलिस द्वारा उक्त मामले में अब तक कुल 28 आरोपी गिरफ्तार किए गए है।
 एसआईटी में सीआईए-1 प्रभारी इंस्पेक्टर अमित कुमार व सीआईए-2 प्रभारी इंस्पेक्टर सोमबीर की टीम सहित कई टीमें काम कर रही है। एसपी ने बताया कि दिनांक 21 अगस्त को इंस्पेक्टर अमित कुमार की टीम द्वारा आरोपी राकेश निवासी महाकाली नगर गाडीगढ जम्मु, ऐजाज अमीन निवासी दुद गंगा कॉलोनी ओल्ड छानपुर श्रीनगर  तथा जितेन्द्र निवासी गांव सिन्धरा तहसील भाला जिला डोडा जम्मू को गिरफ्तार किया गया। जिन्हे 2 दिन के राहदारी रिमांड पर कैथल लाया गया। जिन्हे 22 अगस्त को पेश अदालत करके तीनो का व्यापक पूछताछ के लिए 10 दिन का  पुलिस रिमांड हासिल किया गया है ।

एसपी ने बताया कि एचएससी बोर्ड द्वारा हरियाणा पुलिस सिपाही परीक्षा का कांट्रेक्ट जम्मु की एक कंपनी को दे दिया गया था। जम्मू की उक्त कंपनी में मैनेजर के तौर पर काम करने वाले राकेश ने 31 जुलाई को पेपर के डाटा को पेन ड्राइव में डाला हुआ था। जो उसी कंपनी में काम करने वाले आरोपी जितेन्द्र ने उक्त पेन ड्राइव को प्राप्त करके प्रश्न पत्र व आंसर-की 2 अगस्त को हार्ड कोपी करके अपने घर पर रख ली जिसको 6 लाख रुपये मे मुजफर को देनी थी।
पैसे परीक्षा के बाद लेने थे। जिसने 3 अगस्त को पेपर व आसंर-की हार्ड कापी मुजफर अहमद खान निवासी गुल जिला रामबन जम्मू को दे दी। जो आगे ऐजाज अमीन ने 5 अगस्त को ही प्रश्न पत्र व की जम्मु एयरपोर्ट पर अफजल निवासी हजरत बल श्रीनगर को दी जो सौदा 60 लाख मे तय हुआ। पैसे परीक्षा के बाद देने थे और 60 लाख में मुजफर व एजाज का बराबर का हिस्सा था। फिर अफजल की मुलाकात नजीर अहमद खांडे द्वारा आरोपी राजकुमार निवासी खाण्डा खेड़ी जिला हिसार से करवाई गई तथा आरोपी अफजल द्वारा एक करोड रुपये में पेपर व आंसर की दिनांक 5 अगस्त को ही दिल्ली एयरपोर्ट पर आरोपी राजकुमार को दी गई।
आरोपी राजकुमार द्वारा आरोपी अफजल को 5 लाख रुपये नकद दिये तथा बाकी रुपये दिनांक 9/10 अगस्त को देने बारे बात कही गई। फिर आरोपी राजकुमार ने पेपर व आंसर की अपने दोस्त वेद प्रकाश निवासी रिटोली जिला रोहतक को एक करोड रुपये में दी गई। आरोपी राजकुमार उपरोक्त ने अपने भाई कुलदीप के माध्यम से 6 अगस्त की शाम पेपर व आंसर की एक करोड रुपये में आरोपी नरेन्द्र निवासी माजरा प्यो जिला हिसार को दी गई तथा आरोपी नरेन्द्र ने 20 लाख रुपये वांछित आरोपी कुलदीप को दिये व बाकी रुपये पेपर होने के बाद में देने बारे बात हुई।

फिर आरोपी नरेन्द्र द्वारा आगे आंसर की अपने दोस्त नवीन निवासी माजरा प्यो व निहाल सिंह निवासी ढाणी खुशहाल जिला हिसार को आगे 10/10 लाख रुपये प्रत्येक कैंडिडेट को पढाने के लिए दी गई। फिर आरोपी नरेन्द्र ने 6 अगस्त को उसके साथी सोनू व साहिल दोनो निवासीगण चीडी जिला रोहतक को कैथल आकर सेवन इलेवन होटल में पेपर व आंसर की दी। उनके द्वारा नरेन्द्र के कहने पर आंसर की आरोपी रमेश कुमार निवासी थुआ संचालक बाला जी एकेडमी कैथल को दी गई। फिर आरोपी रमेश द्वारा आंसर की आगे कुछ कैंडिडेट को भेज दी गई।
कुछ को बाई हैंड उपलब्ध करवाई गई। जिसमें से 13 आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है व बाकी आरोपीगण की तलाश जा रही है। बता दें कि कैथल सीआईए-1 पुलिस की टीम द्वारा 7 अगस्त को हरियाणा पुलिस सिपाही लिखित परीक्षा लीक करवाने के मामले में संदीप व गौतम दोनो निवासी खापड जिला जींद तथा नवीन निवासी प्यौदा को एन्सवर की सहित काबु किया गया था। आगामी जांच दौरान उनके गिरोह से जुडे गांव थुआ निवासी रमेश तथा गांव किच्छाना निवासी राजेश को भी काबू कर लिया गया था।

 

आरोपियों से पूछताछ उपरांत उनके गिरोह से जुडे 6वें सदस्य नरेंद्र निवासी माजरा जिला हिसार हिसार को भी गिरफतार कर लिया गया। आरोपी नरेंद्र द्वारा रमेश को आंसर की उपलब्ध करवाई गई थी। एसपी ने बताया कि उक्त मामले में पुलिस द्वारा अब तक  कुल 28 आरोपियों को गिरफ्तार करके 30 मोबाईल फोन, 4 गाडी, 18 लाख 87 हजार रुपये नकदी, दो खाली चैक, लैपटॉप, कंप्यूटर, सीपीयू व रंगीन प्रिंटर तथा अन्य डोक्युमेन्ट बरामद किए जा चुके है।
एसपी ने बताया कि दिनांक 2 अगस्त को राजकुमार व उसका भाई कुलदीप दोनो निवासी खांडा खेडी, निहाल निवासी ढाणी खुशहाल जिला हिसार तथा नरेन्द्र निवासी माजरा प्याउ जिला हिसार की पेपर आउट करवाने बारे मीटिंग फरीदाबाद रायल हाण्डी होटल में हुई थी।
इसके अतिरिक्त 4 अगस्त को ओंकार होटल हिसार में नरेन्द्र व नवीन दोनो निवासी माजरा प्याउ जिला हिसार, सोनू निवासी उकलाना, रमेश निवासी थुआ, संदीप निवासी जीन्द, गुड्डू निवासी हिसार, मोतीलाल निवासी ढाणी ब्राह्मण जिला हिसार, राधे निवासी ईक्कस  जिला जींद सहित 11 व्यक्तियों की मीटिंग हुई। जिसमे नरेन्द्र ने कहा कि मैं पेपर लेकर आउंगा। आप लोग आगे कैंडिडेट तैयार करें। एसपी ने बताया कि पुलिस द्वारा आगामी जांच अमल में लाई जा रही है तथा उक्त मामले में लिप्त शेष अन्य आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Advertisement

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

महिलाओं की दो टूक प्लाट का जल्द मिले कब्जा नहीं तो बीडीपीओ ऑफिस में ही बसेरा

atalhind

महिला की हत्याकर फांसी के फंदे पर लटकाने का आरोप

admin

कैथल में जाली करंसी नोट चलाने वाले रैकेट का पर्दाफाश, 3 आरोपी गिरफ्तार,

admin

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL