AtalHind
कैथल (Kaithal)टॉप न्यूज़हरियाणा

कैथल डीसी संगीता तेतरवाल   बोली उपमंडल विजिलेंस कमेटी करें चल रहे कार्यों की जांच करके लें सैम्पल

कैथल डीसी डॉ. संगीता तेतरवाल   बोली उपमंडल विजिलेंस कमेटी करें चल रहे कार्यों की जांच करके लें सैम्पल
 ग्रामीण विकास विषय पर समीक्षा बैठक लेकर , अधिकारियों को कार्य पूरा करने के दिशा निर्देश

कैथल, 26 मई (अटल हिन्द/राजकुमार अग्रवाल  ) डीसी डॉ. संगीता तेतरवाल ने कहा कि ग्रामीण आंचल में विभिन्न मदों के दृष्टिगत जो भी विकास कार्य चल रहे हैं, वे सभी गुणवत्तापूर्वक होने चाहिए।
Advertisement
मनरेगा के तहत अधिक से अधिक जनहित के कार्य करवाए जाएं, जिससे लोगों को रोजगार के अवसर मिलेंगे, वहीं नहरों की सफाई आदि विभिन्न कार्य दुरुस्त होंगे। संबंधित एसडीएम उपमंडल विजिलेंस कमेटी द्वारा चल रहे कार्यों की नियमित रूप से जांच करें और सैम्पल भी लें।
जिला की सभी सरकारी भूमि का रिकॉर्ड दुरुस्त होना चाहिए। अगर कहीं पर सरकारी भूमि पर अतिक्रमण है, उसकी विस्तृत रिपोर्ट दें और आवश्यक कार्रवाई अमल में लाई जाए।
डीसी डॉ. संगीता तेतरवाल लघु सचिवालय के सभागार में ग्रामीण विकास संबंधी विषय पर समीक्षा बैठक लेकर अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दे रही थी।
Advertisement
उन्होंने कहा कि जो भी जनहित के कार्य चल रहे हैं, उन्हें गति प्रदान करते हुए पूरा करने का काम करें ताकि संबंधित को उसका सीधा लाभ पहुंच सके। इसके साथ-साथ जो कार्य स्वीकृत हो चुके हैं, उन्हें भी जल्द शुरू करवाया जाए। सभी खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी हर महीने विभिन्न स्थानों पर कम से कम 15 विजिट करें और चल रहे जनहित के कार्यों की जांच करें। उन्होंने कहा कि पिछले वर्षों के जो कार्य अब तक अटके पड़े हैं, उन्हें अगली बैठक तक पूरा करके उसकी विस्तृत रिपोर्ट जमा करवाना सुनिश्चित करें।
डीसी ने कहा कि संबंधित अधिकारी उन कार्यों की सूची बनाएं, जिसमें बजट तो आया हुआ है, परंतु उतने बजट में वह कार्य पूरा नहीं हो सकता ताकि इस पर विशेष प्लान बनाकर कार्यों को पूरा करवाया जा सके। स्वच्छ भारत मिशन में गंभीरता से कार्य करने की जरूरत है।
गांव में विशेष अभियान चलाकर पॉलिथीन वेस्ट कलेक्शन करके गांवों को स्वच्छ करें। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी पूरी जिम्मेदारी से कार्य करते हुए जनहित से जुड़े जो भी मुद्दे हैं, उन्हें प्राथमिकता के आधार पर हल करने का कार्य करें।
Advertisement
इस मौके पर सीईओ जिला परिषद सुरेश रवीश, सीटीएम गुलजार अहमद, अतिरिक्त सीईओ जिप अमित कुमार, डीडीपीओ कंवर दमन, बीडीपीओ नरेंद्र सिंह व श्याम लाल सहित अन्य संबंधित अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद रहे।

–गांव से पानी की निकासी, पेयजल व्यवस्था आदि मूलभूत सुविधाएं करवाएं अधिकारी दुरुस्त:
डीसी डॉ. संगीता तेतरवाल ने कहा कि गांव में आम जन के लिए बिजली, पेयजल, पानी की निकासी आदि मूलभूत सुविधाओं को अधिकारी दुरुस्त करवाने का कार्य करें ताकि लोगों को और अधिक सुविधा मिल सके। बरसाती सीजन से पहले ड्रेनों की सफाई करवाई जाए ताकि संभावित जल भराव की समस्या से निजात मिल सके। पूर्व में जिला में जिन स्थानों पर जलभराव की समस्या रही है, वहां पर अधिकारी पहले से विशेष प्लान बनाकर कार्य करें।
डीसी डॉ. संगीता तेतरवाल लघु सचिवालय में संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा दिए गए ज्ञापन के संदर्भ में किसान प्रतिनिधि व संबंधित अधिकारियों से चर्चा के दौरान बोल रही थी। बता दें कि संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा विभिन्न समस्याओं के निदान के लिए उपायुक्त को ज्ञापन सौंपा गया था, जिस पर संज्ञान लेते हुए डीसी ने सभी संबंधित अधिकारियों के साथ किसान मोर्चा के प्रतिनिधियों की मौजूदगी में चर्चा की और समस्या निवारण के निर्देश दिए। डीसी ने कहा कि ड्रेनों की सफाई बरसाती सीजन से पहले 30 जून तक करना सुनिश्चित करें। उसके बाद क्षेत्र में जाकर किए गए कार्यों का निरीक्षण किया जाएगा। जिन गांवों में पेयजल की समस्या है, वहां पर संबंधित विभाग पेयजल मुहैया करवाने की व्यवस्था करें।
डीसी ने कहा कि जिन गांवों में जल निकासी की समस्या है, उन खंडों के संबंधित बीडीपीओ मौके पर जाएं और जल निकासी के लिए व्यवस्था बनाएं ताकि आम जन को किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं हो। शुगर मिल द्वारा किसानों को 140 करोड़ रुपये में से 119 करोड़ रुपये का भुगतान किया जा चुका है बाकी बची राशि का भुगतान भी मुख्यालय से सम्पर्क करके करवाया जाए। गांव के आम जन से जुड़े कार्यों को नरेगा के तहत करवाया जाए। जो भी जिला के मेजर रूट है, उन पर बसों का आवागमन नियमित रूप से करवाने की व्यवस्था करें ताकि उन संबंधित गांवों के बाशिंदों तथा विद्यार्थियों को परेशानी नहीं हो। सभी विभागाध्यक्ष जनहित के कार्यों को प्राथमिकता और जिम्मेदारी से करना सुनिश्चित करें। संयुक्त किसान मोर्चा ने उपायुक्त का आभार भी प्रकट किया। इस मौके पर डीएसपी कुलवंत सिंह, डीआरओ चांदी   राम, डीडीए डॉ कर्मचंद, डीएसडब्ल्यूओ कुलदीप शर्मा, कमलेश गर्ग सहित संबंधित अधिकारी व संयुक्त किसान मोर्चा के पदाधिकारी मौजूद रहे।

100 बार या अधिक बार रक्तदान करने वालों को करेंगे महामहिम राज्यपाल सम्मानित
डीसी डॉ. संगीता तेतरवाल ने कहा कि विश्व रक्तदाता दिवस 14 जून को ऐसे व्यक्तियों को महामहिम राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय द्वारा सम्मानित किया जाएगा, जिन्होंने 100 बार या इससे अधिक बार रक्तदान किया है। जिला में अगर कोई ऐसा रक्तदाता है, तो वह अपने रक्तदाता प्रमाण पत्रों की फोटो प्रति 30 मई से पहले जिला रेडक्रॉस सोसायटी कार्यालय में जमा करवा दें। उन्होंने सभी स्वैच्छिक संस्थाओं से आह्वान किया कि अधिक से अधिक रक्तदान शिविरों का आयोजन करें ताकि जरूरतमंद व्यक्तियों को समय पड़ने पर बहुमूल्य रक्त मुहैया करवाया जा सके।
Advertisement
Advertisement

Related posts

2020 में सबसे ज़्यादा दिहाड़ी मज़दूरों ने आत्महत्या की: एनसीआरबी

admin

2022 में यूएपीए के तहत 1,005 मामले दर्ज हुए: एनसीआरबी डेटा

editor

किसानों  का करनाल में सिर  फुड़वाने वाले  एसडीएम को जेल भेजने की बजाये छूटी पर भेजा 

atalhind

Leave a Comment

URL