AtalHind
टॉप न्यूज़मनोरंजनहेल्थ

शीघ्रपतन का आयुर्वेद में कोई सटीक इलाज है,

क्या शीघ्रपतन का आयुर्वेद में कोई सटीक इलाज है,
अगर है तो क्या इलाज है? उसे ठीक होने में कितना समय लगता है और इलाज कितना कारगर है?
सबसे पहले मैं बताना चाहूँगा ताकि यह प्रश्न पुछने वाले ने बहुत ही चुतराई 😇 से एक सवाल में ही निम्न तीन प्रश्न पूछ लिए हैं :

 

आयुर्वेद में शीघ्रपतन (Premature Ejeculation) का सटीक इलाज क्या है ? 🤔
आयुर्वेद में शीघ्रपतन (Premature Ejeculation) का ठीक होने में कितना समय लगता है ?? 🤔🤔
आयुर्वेद में शीघ्रपतन (Premature Ejeculation) का इलाज कितना कारगर है?? ? 🤔🤔🤔
कई कारणों जैसे यौन अंग की नसें कमजोर होना, वीर्य का पतला होना और शारीरिक कमजोरी की वजह से शीघ्रपतन (Premature Ejeculation) होता है लेकिन अगर आपका वीर्य पतला है और आप शीघ्रपतन (Premature Ejeculation) से पीड़ित है तो आप आयुर्वेद के अनुसार यह इलाज कर सकते हैं :

 

सामग्री :-
भिंडी के बीज – 100 ग्राम
तुलसी के बीज – 60 ग्राम
सालम पंजा (सालम मिश्री) – 60 ग्राम
कुल सामग्री – 220 ग्राम
IMAGE SOURCE : AMULYA AAROGYA
बनाने की विधि :-
सबसे पहले भिंडी के बीज तुलसी के बीज को दो तीन दिन तक धुप में सुखा लें.(भिंडी के बीज सूखने पर काले हो जाते हैं और 100 ग्राम से 60 ग्राम रह जाते है.)
अब भिंडी के बीज, तुलसी के बीज और सालम पंजा को बारी बारी से मिक्सर में पीस ले.
अब इन तीनों पाउडर को मिला कर कांच के हवारहित डिब्बे में रख ले.
उपयोग की विधि :- सुबह के समय नाश्ते के एक घंटे बाद 03 ग्राम पाउडर गुनगुने दुध के साथ और रात्रि के समय भोजन के एक घंटे बाद 03 ग्राम पाउडर गुनगुने दूध के साथ लें.
लागत :- यह आयुर्वेदिक नुस्खा एक महीने के लिए है और इसकी लागत लगभग 1000 रुपए आती है.
इसका सेवन कौन कर सकता है :- इसका सेवन 15 वर्ष के बुजुर्ग से लेकर 75 वर्ष तक का नौजवान कर सकता है.
आयुर्वेद में इस नुस्खे के अनुसार शीघ्रपतन (Premature Ejeculation) में एक महीने में अच्छा ख़ासा असर दिखना शुरू हो जाता है और लगभग 03 महीने में शीघ्रपतन (Premature Ejeculation) खत्म हो जाता है.
आयुर्वेद में शीघ्रपतन (Premature Ejeculation) का यह इलाज बहुत कारगर है इससे न केवल वीर्य गाढ़ा हो शीघ्रपतन (Premature Ejeculation) दूर होता है बल्कि मर्दाना कमजोरी में भी जबरदस्त फायदा करता है.
आप यह जरूर ध्यान रखें ताकि पास सिर्फ और सिर्फ एक ही शरीर है और इसको स्वस्थ रखना बहुत जरूरी है
अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी तो आप upvote और शेयर अवश्य करें ताकि नई – नई जानकारी लिखने के लिए हौंसला 😊 मिले.
अगर आप चाहते हैं क़ि आपको आयुर्वेदा के विषय में जानकारी मिलते रहें तो आप मुझे फॉलो करें.👍
अगर आप अपनी जिंदगी जीने का आनंद नहीं ले पा रहे हैं तो इस बात के दो मतलब हो सकते है :
पहला तो यह है आप अपनी जिंदगी का आनंद लेने के काबिल नहीं है और दूसरा यह है शायद आपको जरुरत ही नहीं है
अगर आपको आयुर्वेदिक दवाइयों के विषय में कोई भी जानकारी चाहिए तो आप कभी भी पूछ सकते हैं👈
Advertisement
Advertisement

Related posts

अमांडा शर्मा की मूवमेंट्स की तस्वीरें क्या बोलती हैं?

atalhind

द वायर को मिला इंटरनेशनल प्रेस इंस्टिट्यूट का 2021 फ्री मीडिया पायनियर अवॉर्ड

admin

इतनी बड़ी सजा  व्यापर  में हिस्सेदार नहीं बनाया तो मारने को सरपंच पर दागी गोलियां,आरोपी भतीजा और साथी को किया काबू

atalhind

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL