Atal hind
कैथल क्राइम जॉब टॉप न्यूज़

कैथल पुलिस कर्मचारियों व अधिकारियों  ने अच्छा काम किया शाबाशी मिलनी चाहिए ,लेकिन सच भी तो जनता के सामने आना चाहिए ?

कैथल पुलिस कर्मचारियों व अधिकारियों  ने अच्छा काम किया शाबाशी मिलनी चाहिए ,लेकिन सच भी तो जनता के सामने आना चाहिए ?
कैथल  सिपाही पेपर लीक  41 गिरफ्तार लेकिन असली आरोपी कौन है ,आईजी ममता सिंह ने कैथल पुलिस कर्मचारियों व अधिकारियों को दी शाबाशीसिपाही पेपर लीक तथा डबल मर्डर मामले में बेहतरीन कार्य करने वाले पुलिस कर्मचारियों व अधिकारियों को आईजी ममता सिंह ने प्रशंसा पत्र व नकद ईनाम देकर किया सम्मानितअपराधियों को सलाखों पीछे पहुंचाने के लिए बेहतरीन कार्य करने वाले पुलिस कर्मचारियों को आगे भी निरंतर रुप से किया जाएगा सम्मानित:- आईजी करनाल रेंज ममता सिंह
कैथल, 07 अक्तूबर ( अटल हिन्द /राजकुमार अग्रवाल )
कैथल को राज्य ही नहीं राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने वाली  दो घटनाओं सिपाही पेपर लीक तथा डबल मर्डर ने आम जनमानस को हिला कर रख दिया साथ ही इन दोनों घटनाओं के कारण कैथल पुलिस की छवि को तो धक्का लगा ही किरकिरी हरियाणा सरकार की भी कम नहीं हुई। क्योंकि एक घटना ने जहाँ उज्जवल भविष्य खराब किये वहीँ दूसरी घटना ने कैथल निवासियों को इस कदर डराया की कैथलवासी  असुरक्षित महसूस करने लगे थे और दोहरे हत्याकांड को लेकर कैथल पुलिस की नाकामी सरे आम दिखाई दे रही थी क्योंकि दिन दहाड़े पुलिस चौंकी से मात्र 500 -600 मीटर  की दूरी  पर एक अकेला व्यक्ति घर में घुस कर पति -पत्नी को मार निकल जाता है।
खैर हत्याकांड का आरोपी राजेश को कैथल पुलिस ने आखिर गिरफ्तार कर ही लिया जिसके लिए  प्रशंसा पत्र व नकद इनाम मिलना बनता है लेकिन 41 गिरफ्तार असली  कौन ,सिपाही पेपर लीक मामला क्या वास्तव में सुलझ गया  कैथल पुलिस शाबाशी लूटना चाहती है जो भी हो कैथल पुलिस ने सराहनीय काम किया प्रशंसा की हकदार है लेकिन सच क्या है ये भी तो जनता को पता होना चाहिए ?
जैसा की  आईजी ममता सिंह ने  सिपाही पेपर लीक तथा डबल मर्डर मामले में बेहतरीन कार्य करने वाले पुलिस कर्मचारियों व अधिकारियों को  प्रशंसा पत्र व नकद इनाम देकर सम्मानित किया गया है। पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि बुधवार की शाम कैथल पहुंची आईजी करनाल रेंज करनाल ममता सिंह द्वारा कार्यालय पुलिस अधीक्षक कैथल में सिपाही पेपर लीक तथा डबल मर्डर मामले में बेहतरीन कार्य करने वाले पुलिस कर्मचारियों व अधिकारियों को प्रशंसा पत्र व नकद इनाम देकर सम्मानित किया गया।
आईजी ममता सिंह ने सभी पुलिस कर्मचारियों की तारीफ की और उन्होंने सभी को कहा कि आप लोगों ने अपराधियों को सलाखों पीछे पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई है, आप सभी बधाई के पात्र है। उन्होने एसपी लोकेंद्र सिंह के भी कुशल मार्गदर्शन की प्रशंसा की।
प्रवक्ता ने बताया कि इस दौरान आईजी ममता सिंह द्वारा डीएसपी एईसी विवेक चौधरी, साइबर सेल प्रभारी एसआई सत्यवान, सीआईए-1 प्रभारी इंस्पेक्टर अमित कुमार, सीआईए-2 प्रभारी इंस्पेक्टर सोमबीर, एसआई सुरेश कुमार, कश्मीर सिंह, ईएसआई रणजीत सिंह, राजेंद्र सिंह, बलवान, जयकरण, नथु राम, एएसआई जसवंत, दलशेर, मुकेश कुमार, हेड कांस्टेबल जशमेर सिंह, नरेश, शमशेर सिंह, विजेंद्र सिंह, पवन कुमार, संदीप, तरसेम कुमार, मनीष कुमार, प्रदीप कुमार, संजय, मनोज कुमार, अमरजीत सिंह, रामपाल, जगबीर सिंह, देवेंद्र सिंह, राजेश कुमार, सिपाही सुरेंद्र, जयवीर, जशमेर, संदीप, राम लखन, सौरव, हरिश तथा चौकी संगतपुरा पुलिस प्रभारी एएसआई रमेश कुमार को नकद ईनाम तथा प्रथम श्रेणी का प्रशंसा पत्र देकर सम्मानित किया गया। विदित रहे कि दिनांक 7 अगस्त को कैथल पुलिस द्वारा माता गेट कैथल के पास से सिपाही लिखित परीक्षा को लीक करवा रहे 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था।
कैथल पुलिस द्वारा उक्त पेपर लीक करवाने वाले गिरोह का भंडाफोड करते हुए मुख्यारोपी सहित कुल 41 आरोपी गिरफतार किए जा चुके है। इसी तरह 24 सितंबर को मोडल टाउन कैथल में हुए डबल मर्डर मामले में वांछित 1 लाख रुपए के ईनामी मोस्ट वांटेड आरोपी को भी सीआईए-1 पुलिस द्वारा काबु करके गिरफ्तार कर लिया गया। इस दौरान आईजी ममता सिंह ने कहा कि उक्त पुलिस कर्मचारियों द्वारा अपराधियों को सलाखों पीछे पहुंचाने में मेहनत व लगन के साथ बेहतरीन कार्य किया गया है। उन्होंने कहा कि आगे भी कानून व्यवस्था बनाए रखने तथा अपराधियों की धरपकड में बेहतरीन कार्य करने वाले पुलिस कर्मचारी-अधिकारियों को निरंतर रूप से सम्मानित करके प्रोत्साहित किया जाएगा।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

 जन आरोग्य योजना, 10 हजार 449 लाभार्थियों ने स्वास्थ्य सेवाओं का लिया लाभ  : डीसी 

admin

कैथल के हरविंदर सिंह ने टोक्यो पैरा ओलंपिक में   विश्व में किया प्रदेश का नाम रोशन: एसडीएम

atalhind

कैथल व मानस डे्रन पर 11 करोड़ 50 लाख रुपये से निर्मित हुए पंपिंग स्टेशन, ड्रेनों की सफाई का कार्य जल्द हो पूर्ण : उपायुक्त

admin

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL