AtalHind
कैथलजॉबटॉप न्यूज़

मनोहर सरकार भी बड़ी मजाकिया है ,हजारों लड़के-लड़कियों को कैथल बुला के सुबह बोल दिया रोजगार कैंसल ,रोजगार कैंसल ,रोजगार कैंसल 

मनोहर सरकार भी बड़ी मजाकिया है ,हजारों लड़के-लड़कियों को कैथल बुला के सुबह बोल दिया रोजगार कैंसल ,रोजगार कैंसल ,रोजगार कैंसल
हरियाणा रोडवेज कैथल में प्रशिक्षण के लिए पहले बुलाया फिर कैंसल का नोटिस चस्पा किया,

कैथल (अटल हिन्द/राजकुमार अग्रवाल )
सरकार द्वारा युवाओं को अधिक से अधिक रोजगार देने के नाम पर शुरू किए गए हरियाणा कौशल रोजगार निगम लिमिटेड की पहले चरण में ही हवा निकल गई।
हरियाणा कौशल रोजगार निगम लिमिटेड के माध्यम से युवाओं व युवतियों को रोडवेज में भर्ती करने के लिए प्रशिक्षण के लिए शेडयूल अनुसार कैथल रोडवेज पहुंचे युवाओं के होश उस समय उड़ते दिखाए दिए जब रोडवेज द्वारा प्रशिक्षण कैंसल का नोटिस चस्पा कर दिया गया। प्रदेश भर से कैथल पहुंचे सैकड़ों युवाओं ने रोडवेज पर सरकार व विभाग को जमकर कोसा। युवाओं का कहना था कि सरकार युवाओं को गुमराह कर रही है।
युवतियों का कहना था कि वे सुबह से तंग होकर व हजारों रुपये खर्च कर यहां पहुंची थी लेकिन यहां पर विभाग ने प्रशिक्षण कैंसल का नोटिस चस्पा कर उनके हितों से खिलवाड़ किया है।
जब सरकार को भर्ती नहीं करनी है तो फिर क्यों उनको परेशान कर रही है। युवाओं व युवतियों का कहना था कि सरकार के पास कुछ नहीं है। सरकार की न कोई नीति है और न ही नीयत। भाजपा केवल ढकोसलों की सरकार बनकर रह गई है।
इस सरकार का सबसे ज्यादा नुकसान युवाओं को हुआ है क्योकि कोई भी भर्ती न होने के कारण युवाओं को बेरोजगारी का सामना करना पड़ रहा है।
गौरतलब है कि हरियाणा कौशल रोजगार निगम लिमिटेड के तहत हरियाणा रोडवेज द्वारा युवाओं व युवतियों को पांच दिन का प्रशिक्षण के लिए आवेदन मांगे थे।
इसमें करीब पांच हजार युवा व युवतियों ने चालक व परिचालक के लिए आवेदन किया था। 19 अप्रैल से इन युवाओं को पांच दिवसीय प्रशिक्षण दिया था जाना था लेकिन 18 अप्रैल की रात को निदेशालय द्वारा पत्र जारी कर इस प्रक्रिया को रद्द करने के आदेश दे दिए। ऐसा बताया जा रहा है कि रोडवेज में इस प्रशिक्षण के बाद युवाओं को प्राथमिकता के आधार पर भर्ती किया जाना था।

 

वे जाएं तो जाएं कहां :
सुमन परिचालक के लिए आवेदन करने वाली सुमन ने बताया कि 18 अप्रैल को फोन के माध्यम से सूचना दी गई कि आपकी ट्रेनिंग होगी। सारे दस्तावेज लेकर आ जाना।
यहां आए तो यहां पर नोटिस मिला जिस पर लिखा था कि यह कैंसल हो गई है। सरकार युवाओं के हितों से खिलवाड कर रही है। यही कहा कि सरकार के आदेश आए हैं। आपके पास जब काल आए तो फिर से आ जाना। ऐसे में वे जाएं तो जाएं कहां।
रात को निदेशालय की ओर से यह प्रक्रिया रद्द करने के आदेश प्राप्त हुए
हरियाणा रोडवेज के वर्क मैनेजर राजबीर सिंह ने बताया कि निदेशालय के आदेशानुसार युवा व युवतियों के चालक-परिचालक प्रशिक्षण प्रशिक्षण के लिए 18 तक युवाओं के टेस्ट लिए गए।
जो टेस्ट में पाए हुए थे उनको 19 अप्रैल को ट्रेनिंग के लिए बुलाया गया था। 18 अप्रैल की रात को निदेशालय की ओर से यह प्रक्रिया रद्द करने के आदेश प्राप्त हुए। वे युवा व युवतियों को इसकी सूचना फोन के माध्यम से दे रहे हैं। जैसे सरकार या निदेशालय के आगामी आदेश प्राप्त होंगे, उसके अनुसार ही कार्य किया जाएगा।
दिहाड़ी छोड़कर आए थे।
खरकडा से नरेश कुमार ने बताया कि वे अपनी दिहाडी छोडकर यहां आए थे। अधिकारियो ंने कहा कि अब यह कैंसल कर दिया है। अधिकारी व सरकार युवाओं को गुमराह कर रही है। जब फोन कर बुलाए थे तो कैंसल का भी फोन कर सकते थे।
Advertisement

Related posts

कोरोना वैक्सीनेशन नौकरियों पर पड़ी भारी ,हाई कोर्ट के खिलाफ : हाई कोर्ट में याचिका !

atalhind

सरकार पिंजड़े में क़ैद तोते सीबीआई को रिहा करे-मद्रास हाईकोर्ट

atalhind

अरविन्द केजरीवाल के हरियाणा दौरे के बाद बोले haryanA बीजेपी नेता मनोहर हर व्यक्ति के सिर पर छत मुहैया करवानी है

atalhind

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL