AtalHind
टॉप न्यूज़राजनीतिहरियाणा

हरियाणा में सियासी घमासान तेज, कांग्रेस  इन तीन MLA ने बनाई दूरी,कुलदीप बिश्नोई के साथ-साथ ,नेत्री किरण चौधरी और राव चिरंजीव नहीं पहुंचे।

हरियाणा में सियासी घमासान तेज, कांग्रेस  इन तीन MLA ने बनाई दूरी,कुलदीप बिश्नोई के साथ-साथ ,नेत्री किरण चौधरी और राव चिरंजीव नहीं पहुंचे।

: चंडीगढ़(योगेंद्र शर्मा/Atal HIND)
हरियाणा में राज्यसभा की 2 सीटों के लिए होने वाला चुनाव काफी रोचक हो गया है। तमाम अटकलों और चर्चाओं के बीच हॉर्स ट्रेडिंग खरीद-फरोख्त से बचने के लिए कांग्रेस हाईकमान ने कांग्रेस के सभी विधायकों कोई दिल्ली बुलाकर उन्हें रायपुर छत्तीसगढ़ भेज दिया है। कांग्रेस के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष उदय भवन विधायकों के इस तरह रायपुर जाने पर इसे प्रशिक्षण शिविर बता रहे हैं। कांग्रेस हाईकमान की ओर से भेजे गए दिग्गज नेता अजय माकन की जीत सुनिश्चित करने के लिए नेता विपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा और उनके सांसद पुत्र दीपेंद्र हुड्डा ने अपनी टीम को लेकर मोर्चा संभाल लिया है। चुनाव में खींचतान और खरीद-फरोख्त से बचने के लिए हरियाणा कांग्रेस मामलों के प्रभारी विवेक बंसल और नेता विपक्ष भूपेंद्र हुड्डा ने सभी विधायकों को दिल्ली बुलाया जहां से कांग्रेस के कुल 31 विधायकों में 28 को रायपुर भेज दिया गया है। खास बात यह है कि यह सभी विधायक एक निजी विमान से रायपुर भेजे जा रहे हैं और 10 जून को मतदान वाले दिन ही इनकी वापसी होगी।
चुनौतियां कम होने का नाम नहीं ले रही।
कुल मिलाकर राज्यसभा चुनाव मे कांग्रेस के उम्मीदवार अजय माकन के सामने चुनौतियां कम होने का नाम नहीं ले रही।दिल्ली में कांग्रेसी विधायकों के साथ पार्टी के वरिष्ठ नेता केसी वेणुगोपाल भी रूबरू हुए। हरियाणा कांग्रेस के सभी विधायक नेता विपक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के दिल्ली स्थित आवास पर एकत्र हुए थे जहां बैठक के बाद में रायपुर छत्तीसगढ़ का कार्यक्रम बना। यहां पर गौरतलब है कि हरियाणा में राज्यसभा की 2 सीटों के लिए भाजपा की ओर से पूर्व मंत्री कृष्ण पंवार और कांग्रेस की ओर से हाईकमान ने अजय माकन को मैदान में उतारा था। लेकिन ऐन वक्त पर बतौर निर्दलीय प्रत्याशी पूर्व मंत्री विनोद शर्मा के बेटे कार्तिकेय शर्मा नामांकन दाखिल कर दिए जाने से राज्यसभा सीटों का यह चुनाव बेहद रोचक हो गया है। हालांकि भारतीय जनता पार्टी की ओर से बनाए गए प्रत्याशी कृष्ण लाल पंवार की सीट पूरी तरह से सुरक्षित है और दूसरी सीट पर सियासत तेज हो गई है। विधायकों की खरीद-फरोख्त और अंदर खाने टूट के डर से कांग्रेस को यह कदम उठाना पड़ रहा है।
निर्दलीय प्रत्याशी कार्तिकेय शर्मा को जजपा का समर्थन
निर्दलीय प्रत्याशी कार्तिकेय शर्मा को जननायक जनता पार्टी के 10 विधायकों के साथ-साथ विधिवत तौर पर भारतीय जनता पार्टी की ओर से समर्थन मिल गया है। इसके अलावा निर्दलीय प्रत्याशी कार्तिकेय शर्मा ने निर्दलीय विधायकों का समर्थन होने की बात भी कही है। कांग्रेस हाईकमान की ओर से एक रणनीति तैयार करके कांग्रेस के सभी विधायकों को दिल्ली पहुंचने के लिए कहा गया था।इस माहौल पर जहां कांग्रेस के सांसद दीपेंद्र हुड्डा का कहना है कि भाजपा अपने विधायकों को सुरक्षित रखें।
वोट रद्द हो जाएगा।
बताया जा रहा है कि कांग्रेस की अजय माकन के सामने भितरघात और टूट फूट के कारण भयंकर चुनौती खड़ी हो गई है। कांग्रेस हाईकमान को भी राज्यसभा की इस सीट पर बने माहौल की जानकारी दी गई है। कांग्रेस के पूर्व विधायक और हुड्डा सरकार में स्पीकर रहे कुलदीप शर्मा कार्तिकेय शर्मा के ससुर हैं। दामाद को सांसद बनाने के लिए कुलदीप शर्मा अहम भूमिका में नजर आ रहे हैं। इस बार क्रॉस वोटिंग की संभावनाएं कम लेकिन वोटिंग के दिन कोई न कोई खेल होने की चर्चा ज्यादा है अर्थात वोट के रद्द होने या विधायकों के अनुपस्थित रहने की स्थिति में भी मकान के सामने संकट होगा हालांकि भाजपा कांग्रेस के साथ-साथ निर्दलीय उम्मीदवार के चुनाव प्रभारी और एजेंट मौके पर मौजूद रहेंगे। विधायकों को वोट डालने से पहले उनको दिखानी होगी जिससे प्रभारी को पता लग जाएगा कि किस विधायक ने किसको वोट दिया है बैलट पेपर ने दिखाने पर वोट को रद्द समझा जाएगा इसके अलावा अगर बैलेट पेपर पर विधायक गलत निशान लगा देता है तो भी वोट रद्द हो जाएगा।
कांग्रेस के ये तीन विधायक नहीं पहुंचे दिल्ली
कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष उदय भान सिंह और हरियाणा कांग्रेस मामलों के प्रभारी विवेक बंसल द्वारा बुलाए गए कांग्रेस के सभी विधायकों में तीन विधायक नहीं पहुंचे। हाईकमान ने सभी कांग्रेसी विधायकों को दिल्ली बुलाया था जहां से उन्हें छत्तीसगढ़ रायपुर ले जाना तय था लेकिन ऐन वक्त पर नाराज चल रहे कुलदीप बिश्नोई के साथ-साथ वरिष्ठ कांग्रेस नेत्री किरण चौधरी और राव चिरंजीव नहीं पहुंचे। कुलदीप बिश्नोई नाराज चल रहे हैं जबकि चिरंजीवी और किरण चौधरी अपने निजी कार्यों में व्यस्त हैं।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने ली चुटकी, 
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने राज्यसभा चुनाव में तमाम कयासों और खेल होने के प्रश्न पर कहा कि खेल को खेल की भावना से खेला जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि खेल में खेल की भावना से ही आगे बढ़ना चाहिए राज्यसभा की सीट को लेकर हमारी यही मंशा है। मुख्यमंत्री की मुस्कुराहट और आत्मविश्वास से भरे बॉडी लैंग्वेज ने काफी कुछ बता दिया है।
अभय चौटाला और बलराज कुंडू अपना स्टैंड स्पष्ट करें-उदयभान
कांग्रेस अध्यक्ष चौधरी उदयभान ने सभी विधायकों से कांग्रेस के राज्यसभा उम्मीदवार अजय माकन के समर्थन में वोट की अपील की है। उनका कहना है कि यह चुनाव उन विधायकों का भविष्य तय करेगा जो खुद को बीजेपी जेजेपी विरोधी बताते हैं। देखने वाली बात होगी कि खुद को सरकार का विरोधी बताने वाले वक्त पड़ने पर उसका विरोध करेंगे या उसका साथ देंगे। खासतौर पर उन्होंने इनेलो विधायक अभय चौटाला और निर्दलीय विधायक बलराज कुंडू से अपना स्टैंड स्पष्ट करने के लिए कहा है।
Advertisement

Related posts

कानून आम जनता पर लागू होते है नवजोत सिद्दू जैसे खददरधारी नेताओं पर नहीं ,बिजली विभाग का 10 – 20 हजार नहीं बल्कि पूरे 8,67,540 बकाया

admin

अंधेरगर्दी का हरियाणा में सबसे विलक्षण नजारा,एथलेटिक ट्रैक के बीचों-बीच मैदान में छोड़ दिया  बिजली का खंभा

admin

पैगंबर पर टिप्पणी करने वाले बीजेपी नेता   नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल कानून गिरफ्त से बाहर ,उत्तर प्रदेश में हिंसा के सिलसिले में अब तक (लगभग सभी मुस्लिम )316 आरोपी गिरफ्तार

atalhind

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL