AtalHind
क्राइमटॉप न्यूज़राष्ट्रीय

कनेडा की बजाये कोलकत्ता बंधक काण्ड में फिर गिरोह के 8 सदस्य कोलकाता से गिरफ्तार, 6 लडके व 2 लड़कियां भी बरामद

Instead of Canada, in the Kolkata hostage case, 8 gang members were arrested from Kolkata, 6 boys and 2 girls were also recovered.
Instead of Canada, in the Kolkata hostage case, 8 gang members were arrested from Kolkata, 6 boys and 2 girls were also recovered.
कैथल 26 नवंबर (अटल हिन्द/राजकुमार अग्रवाल )

 

आजकल युवा वर्ग में विदेश जाने का क्रेज है, जिस कारण कई बार वह फर्जी एजेंटों के सम्पर्क में आकर अपने आप को मुसीबत में डाल लेते है। ऐसे ही एक मामले की जांच कैथल सीआईए-1 पुलिस प्रभारी एसआई वीरभान की अगुवाई में टीम द्वारा करते हुए उल्लेखनीय सफलता हासिल की गई है।Kolkata hostage case

 

शनिवार को सीआईए-1 पुलिस परिसर में आयोजित प्रेस वार्ता दौरान एसपी मकसूद अहमद ने बताया कि आमजन की जानमाल की सुरक्षा बरकरार रखने के लिए जिला पुलिस कटिबद्ध है।
एसपी ने उक्त कामयाबी का खुलासा करते हुए बताया कि बाकल गांव के रहने वाले अमृत पाल की शिकायत अनुसार उसका भाई विक्रम कनाडा जाना चाहता था।
उसके ही गांव के अवतार सिंह के बातचीत के माध्यम से देवेंद्र निवासी रुद्रपुर व गुरुदेव सिंह निवासी रिठौडा यूपी उसके भाई को 28 अक्तूबर को कनाडा के लिए ले गए लेकिन वो पहले उसके भाई को कलकत्ता ले गए।
वहां पर उन्होंने उसके भाई को बंधक बना लिया तथा उससे डोलर छीन लिए। आरोपियों ने उसके भाई की उससे विडियो काल व ओडियो काल से बात करवाई। जिनमे वह डरा सहमा लग रहा था आरोपियों द्वारा उसके भाई से मारपीट करके उससे 13 लाख रुपए की और डिमांड की।
Instead of Canada, in the Kolkata hostage case, 8 gang members were arrested from Kolkata, 6 boys and 2 girls were also recovered.
Instead of Canada, in the Kolkata hostage case, 8 gang members were arrested from Kolkata, 6 boys and 2 girls were also recovered.
जिस बारे थाना पूंडरी में विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था तथा मामले की जांच सीआईए-1 पुलिस को सौंपी गई थी। एसपी ने बताया कि उक्त मामले में सीआईए-1 पुलिस द्वारा एक आरोपी रीठौडा कलां जिला मेरठ यूपी निवासी गुरदेव उर्फ देव को गिरफ्तार करके न्यायालय से 10 दिन पुलिस रिमांड हासिल किया गया था।
 रिमांड अवधि दौरान आरोपी गुरदेव से पूछताछ उपरांत मुम्बई से शशांक पुत्र अमित सिंह निवासी प्लॉट ए 11 महालक्ष्मी सोसायटी रोड नं. 3 कांदिवली मुम्बई, मोईन कुरेशी पुत्र अब्दुल रहमान कुरैशी निवासी बी-1 804 गोदरेज हाईट कांदिवली मुम्बई, समीर काजी पुत्र फारूक काजी निवासी 3बी 212 उमेरा पार्क पठान वाडी मलाड ईस्ट मुम्बई, अब्दुल करीम रहमान कुरैशी उर्फ देसाई पुत्र अनवर कुरैशी निवासी सी-1, 02 फर्स्ट फ्लोर फरेशिया रानी सतीवाल मार्ग मलाड ईस्ट पठान वाडी मुंबई तथा अखलेश कुमार पुत्र सूरजपाल सिंह निवासी नगला चिकन मथुरा यूपी को गिरफ्तार किया गया था।
 सभी उपरोक्त आरोपी 15 नवंबर को न्यायालय में पेश किए गए थे जहां से आरोपी गुरुदेव उर्फ देव तथा अखलेश कुमार को न्यायालय के आदेशानुसार न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया तथा मामलें की तहत तक जाने के लिए शेष चारों आरोपियों का 10 दिन पुलिस रिमांड हासिल किया गया था।
 आरोपी अब्दुल करीम रहमान कुरैशी से और अधिक गहनता से पूछताछ की गई। जो पता चला कि सुनील केजरीवाल जो मुंबई का रहने वाला है वह कोलकाता में रहकर लोगो किडनैप करके अपने ठिकाने पर रखता है और किडनैप किए गए लोगों के घरों से पैसे की मांग करता है।
Instead of Canada, in the Kolkata hostage case, 8 gang members were arrested from Kolkata, 6 boys and 2 girls were also recovered.
Instead of Canada, in the Kolkata hostage case, 8 gang members were arrested from Kolkata, 6 boys and 2 girls were also recovered.
 उसने अपने ठिकाने पर अब भी कुछ लडके व लडकियों को किडनैप करके रखा हुआ है और जो किडनैप करके रखे गए लडके व लडकियों की जान की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए पुलिस ने पूरे ऑपरेशन को सूझबूझ से पुरा करने का निर्णय लिया।
 कैथल सीआईए-1 से एएसआई राजबीर, एएसआई धर्म सिंह, एचसी तरसेम एचसी मनीष, एचसी सुनील , एचसी मनोज, सिपाही संदीप, सिपाही सौरभ, सिपाही बूटा सिंह, सिपाही संदीप, ईएचसी देवेंद्र ईएचसी जगबीर, लेडी एचसी सुदेश की टीम टीम अब्दुल करीम रहमान कुरेशी उर्फ देसाई को दिनांक 16 नवंबर को अपने साथ लेकर कलकत्ता पहुंची।
 पुलिस कोलकाता में जोका एरिया में विक्रम निवासी बाकल को किडनैप करके रखे गए स्थान पर पहुंची लेकिन वहां पर ताला लगा हुआ मिला। फिर पुलिस ने किडनैप करके रखे गए व्यक्तियों को बचाने के लिए सुनील केजरीवाल के कई ठिकानों पर रेड की।
 काफी मेहनत करने के बाद पता चला कि सुनील केजरीवाल ने कुछ लडके व लडकियों को किडनैप करके डायमंड पार्क में किसी मकान पर रखा हुआ है जो काफी तलाश करने के बाद पुलिस पार्टी डायमंड पार्क में एक मकान पर पहुंची। जहां पर काफी लडके व लडकिया थी।
 पुलिस ने सभी को काबू करके सभी से अलग अलग पूछताछ की तो पता चला कि उनमे से 6 लडके व 2 लड़कियां भी नेपाल की है, जिनको वहां पर काफी समय से किडनैप करके रखा गया था तथा 8 लड़के वो पाए गए जिनको सुनील केजरीवाल ने किडनैप करके रखे गए लोगों को डराने धमकाने व देखरेख के लिए सैलरी पर रखा हुआ था और गहनता से पूछताछ पर पता लगा कि सुनील केजरीवाल (Sunil Kejriwal)ने ऐसे ही कई ठिकाने बनाए हुए है जो एक शातिर किस्म का व्यक्ति है।
Instead of Canada, in the Kolkata hostage case, 8 gang members were arrested from Kolkata, 6 boys and 2 girls were also recovered.
Instead of Canada, in the Kolkata hostage case, 8 gang members were arrested from Kolkata, 6 boys and 2 girls were also recovered.
 वास्तव में मुंबई का रहने वाला है लेकिन अलग अलग जगहों पर रहकर ऐसे ही विदेश भेजने के नाम पर लडके व लडकियों को किडनैप करके अलग अलग जगहों पर रखता है। जिला कैथल से विक्रम नाम के पीड़ित व्यक्ति को भी किडनैप करके मिनरवा गार्डन जोका कोलकाता में रखा गया था लेकिन पुलिस ने उसको सकुशल छुडवा लिया था जो इसके बाद सुनील केजरीवाल ने उस ठिकाने को छोड दिया था और डायमंड पार्क में नया ठिकाना बना लिया था।
एसपी ने सीआईए-1 पुलिस को बधाई देते हुए कहा कि कैथल सीआईए -1 पुलिस ने मेहनत जज्बे से काम करते हुए विदेश भेजने के नाम पर लोगो को किडनैप करने के गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए पूरे गिरोह को उखाड़ फैकां। एसपी ने बताया कि सीआईए-1 पुलिस द्वारा कलकता से आरोपी प्रवीण उपाध्याय पुत्र विष्णु उपाध्याय वासी 2 नम्बर बेकरी रोड थाना हैस्टिंग कलकता-22,मोहम्मद हुसैन पुत्र मोहम्मद साबिर वासी 4/1 नवाब अब्दुल लतीक स्ट्रीट थाना पक्की स्ट्रीट कलकता-16,अनिल पुत्र रमेश चन्द निवासी गांव अजीजपुर थाना झिंझाना जिला शामली (उत्तर प्रदेश),रवि कुमार पुत्र संजीव @ नरेश निवासी गांव चांसमन्द थाना इंद्री जिला करनाल (हरियाणा),प्रिन्स पुत्र जनक राज निवासी गांव रिन्डल (रंडौला) थाना कुंजपुरा जिला करनाल (हरियाणा),पंकज @ राका पुत्र शिशपाल निवासी गांव रावर थाना मधुबन जिला करनाल (हरियाणा),मोहित कुमार पुत्र विनोद कुमार निवासी गांव नंगला रौडान थाना कुंजपुरा जिला करनाल (हरियाणा) तथा संजीव कुमार पुत्र राजबीर निवासी गांव रावर मधुबन जिला करनाल (हरियाणा) को काबू किया गया तथा कोलकता न्यायालय से इनका राहदारी रिमांड हासिल किया गया।
आरोपियों के कब्जे से एक इनोवा गाडी बरामद की गई। एसपी ने बताया कि सीआईए-1 पुलिस द्वारा बंधक बनाए गए सीता नेपाली पत्नी बसन्त नेपाली पुत्र चन्द्र बहादुर वासी गांव तुलसीपुर घोराही-18 पोस्ट आफिस घोराही थाना घोराही जिला डांग (नेपाल) ,करिस्टी श्रेष्ठ पुत्री कल बहादुर श्रेष्ट पुत्र हरि बहादुर श्रेष्ठ वासी गांव घोराही-18 पोस्ट आफिस घोराही थाना घोराही जिला डांग (नेपाल), सुभाष कुमार बनिया पुत्र माधव प्रसाद बनिया पुत्र बच्चू लाल बनिया वासी गांव घोराही-14 पोस्ट आफिस घोराही थाना घोराही जिला डांग (नेपाल) ,पवन कुमार पुन पुत्र धर्मजीत पुन पुत्र घनबहादुर पुन वासी पुठा-12 पुर्वी रुकुम पोस्ट आफिस रुकुम थाना रुकुम जिला पुर्वी रुकुम (नेपाल) ,सुरेश बुढामगर पुत्र कुल बहादुर बुढामगर पुत्र धन बहादुर बुढामगर वासी गांव घोराही-18 पोस्ट आफिस घोराही थाना घोराही जिला डांग (नेपाल),प्रकाश बुढामगर पुत्र चाम प्रकाश बुढामगर पुत्र रन बहादुर बुढामगरवासी गांव घोराही-18 पोस्ट आफिस घोराही थाना घोराही जिला डांग (नेपाल), शिरी गुरुंग पुत्र गउ करन गुरुंग पुत्र हरका बहादुर गुरुंग वासी गांव घोराही-18 पोस्ट आफिस घोराही थाना घोराही जिला डांग (नेपाल),बर कुमार बुढा पुत्र क्रीशु बुढा पुत्र धर्म सिंह बुढा निवासी गांव मोहट पोस्ट आफिस भुमे-6 थाना मोहट जिला रुकुम (नेपाल) को मुक्त करवाया गया। एसपी ने बताया कि इसके अतिरिक्त इस ओपरेशन दौरान गुजरात के रहने वाले अकिंत को भी रिहा करवाया गया।
एसपी ने आगे बताया कि गिरोह सरगना सुनील केजरीवाल ने मुम्बई कोलकता गुजरात कोच्ची आसाम हैदराबाद हरियाणा पंजाब तथा नेपाल में अपने फर्जी एजेंट छोडे हुए है जिनके माध्यम से वह अब तक करीब 35 व्यक्तियों को किडनैप करके पैसे ऐंठ चुका है। एसपी ने बताया कि गिरोह में शामिल अन्य सदस्यों को भी जल्दी से जल्दी गिरफ्तार किया जाएगा। सभी आरोपी शनिवार को न्यायालय में पेश किए जाएगें।
Advertisement
Advertisement

Related posts

नरवाना के पास यात्री बस पलटी ज्यादा नहीं 75 यात्री सवार थे,2 मरे 14 घायल 

admin

मृतक व्यक्ति के ख़िलाफ़ ही केस दर्ज किया, कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर और हत्यारोपी  निहंग की मुलाकात का क्या ?

atalhind

66 रूपए खर्च कर नेताओं को यह समझाओ की सविधान किसी सरकार को  नागरिकों के स्वास्थ्य के साथ लापरवाही करने की अनुमति नहीं देता 

admin

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL