AtalHind
गुरुग्रामटॉप न्यूज़राजनीतिहरियाणा

ऐसा क्या कह दिया दुष्यंत चौटाला ने की पटौदी जेजेपी में लग गई इस्तीफा देने वालों की लाइन 

ऐसा क्या कह दिया दुष्यंत चौटाला ने की पटौदी जेजेपी में लग गई इस्तीफा देने वालों की लाइन

दुष्यंत चौटाला के पटौदी  दौरे के बाद जेजेपी में लगी   इस्तीफे देने की झड़ी,

 दर्जनों पदाधिकारियों द्वारा जजपा को अलविदा

कार्यकर्ता व आम जनता के काम नहीं होने के लगाए गए गंभीर आरोप

पार्टी हाईकमान सहित पदाधिकारियों द्वारा अनदेखी की कही गई बात

अटल हिन्द /फतह सिंह उजाला

पटौदी । अब इसे बदलते मौसम की मार कहें या फिर नेताओं के दौरे के साइड इफेक्ट के रूप में देखा जाए ? पंजाब में सरकार बनाने के बाद हरियाणा में आम आदमी पार्टी और सुप्रीमो दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल तेजी से सक्रिय दिखाई दे रहे हैं । दूसरी ओर गठबंधन सरकार की सहयोगी पार्टी जननायक जनता पार्टी के भी बदले बदले सुनाई दे रहे हैं ।

इसी बीच में डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला के द्वारा 25 अगस्त को पटौदी विधानसभा क्षेत्र के गांव बिलासपुर में आगमन और जनसभा के संबोधन का साइड इफेक्ट एक पखवाड़े के बाद यह निकल कर आया है कि पटौदी विधानसभा क्षेत्र में जननायक जनता पार्टी के दर्जनों पदाधिकारियों ने अपने समर्थकों सहित पार्टी को अलविदा बोल दिया है । पटौदी हल्का के अध्यक्ष और अन्य तमाम पदाधिकारियों ने संडे को सामूहिक रूप से अपने अपने पद और जननायक जनता पार्टी से त्यागपत्र दे दिया।

संडे को पटौदी मंडी नगर परिषद के हेली मंडी नगर पालिका क्षेत्र की पंचायती धर्मशाला में आयोजित बैठक में जननायक जनता पार्टी के पटौदी हल्का अध्यक्ष भारत सिंह नंबरदार और प्रेस प्रवक्ता एडवोकेट सुनील दत्त शर्मा के द्वारा आरोप लगाए गए कि पार्टी हाईकमान सहित पार्टी के जिला स्तर के पदाधिकारियों के द्वारा भी बीते काफी समय से अनदेखी महसूस की जा रही है । डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला के बीते कई माह के दौरान कार्यक्रम के विषय में किसी प्रकार की जानकारी उपलब्ध नहीं करवाई जा रही है । इसी बैठक में इस बात का खुलासा किया गया कि बिलासपुर में बीती 25 अगस्त को डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला जिस कार्यकर्ता अथवा समर्थक के यहां पहुंचे थे , उसके द्वारा ही डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला को लेकर सोशल मीडिया पर वीडियो भी वायरल किया गया था । इसी बैठक में मौजूद तमाम पदाधिकारियों और जिला स्तर की युवा पदाधिकारियों के द्वारा इस बात को लेकर भी नाराजगी प्रकट की गई कि संडे को ही पटौदी क्षेत्र के गांव बलेवा में जननायक जनता पार्टी की बैठक की जा रही है, लेकिन इस विषय में अधिकारिक रूप से किसी प्रकार की जानकारी उपलब्ध नहीं है ।

15 अगस्त 2021 को डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला हेली मंडी नगर पालिका के मनोनीत पार्षद आनंद गोयल के यहां पहुंचे थे । उस समय जो भी क्षेत्र से संबंधित विकास कार्य की मांग रखी गई थी, उनमें से किसी भी कार्य पर आज तक अमल नहीं किया गया है । ऐसे में छोटे छोटे काम के लिए शहर हो या गांव जहां भी समर्थक या फिर ग्रामीण हैं, अब वह काम नहीं होने को लेकर छींटाकशी भी करने लगे हैं । इन्हीं प्रकार की सब बातों से आहत होकर सामूहिक रूप से फैसला किया गया है, कि जननायक जनता पार्टी के तमाम पद सहित पार्टी अलविदा कहा जा रहा है ।

इस मौके पर मुख्य रूप से इस्तीफा देने वालों में जननायक जनता पार्टी के पटौदी हल्का अध्यक्ष भारत सिंह नंबरदार, पालिका पार्षद हेली मंडी आनंद गोयल, प्रेस प्रवक्ता एडवोकेट सुनील दत्त शर्मा, जिला कार्यकारिणी सदस्य विक्रम, राजकुमार चौहान, मनजीत सिंह दहिया, पटौदी हल्का उपाध्यक्ष भंवर पाल चौहान, जिला कार्यकारिणी सदस्य प्रेमपल चौहान, हल्का उपाध्यक्ष पटौदी नरेश रामपुरा, जिला युवा महासचिव जितेंद्र जांगड़ा , विजय यादव पाटोदी महासचिव, ललित शर्मा , राजपाल सरपंच गुगाना, एडवोकेट सुखबीर सिंह, सह सचिव राजेश जांगड़ा, कुलदीप रोहिल्ला, हल्का महासचिव पटौदी सतीश जांगड़ा, संगठन सचिव पटौदी शशि कपूर, जिला कार्यकारिणी मेंबर दिनेश चौहान, एडवोकेट नवीन कुमार , ज्ञानचंद गुप्ता , जननायक जनता पार्टी महासचिव सुभाष चंद्र, दीपक शर्मा, उमेश शर्मा , रमेश कुमार, राम सिंह तवर, मनोज कुमार, जितेंद्र शर्मा, दुर्गेश कुमार , नारायण सिंह लोहचब , रणबीर नेहरा सहित और भी पदाधिकारी तथा कार्यकर्ता मौजूद रहे ।

सामूहिक रूप से जननायक जनता पार्टी को अलविदा कहने वाले इन सभी कार्यकर्ताओं का कहना है कि वह सभी ताऊ देवीलाल की नीतियों के कायल रहे हैं और यही कारण था कि जननायक जनता पार्टी में शामिल होकर चुनाव के दौरान रात दिन मेहनत कर पार्टी को सत्ता में भागीदार बनाने तक का काम किया गया । एक सवाल के जवाब में इन सभी पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के द्वारा कहा गया कि और पार्टी में जाने का फैसला नहीं किया गया है । जो कुछ भी फैसला किया जाएगा वह सामूहिक रूप से बैठकर अपने सभी समर्थकों से विचार-विमर्श के बाद ही किया जाएगा । किस पार्टी के साथ मिलकर अब भविष्य में राजनीतिक पृष्ठभूमि को मजबूत बनाना है । इतना तो तय है कि जिस प्रकार से और जितनी बड़ी संख्या में पटौदी विधानसभा क्षेत्र में जननायक जनता पार्टी को सामूहिक रुप से पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के द्वारा अलविदा कहा गया, यह निश्चित है पटौदी क्षेत्र ही नहीं पूरे जिला गुरुग्राम की राजनीति को भी प्रभावित करेगा।

Advertisement

Related posts

इस मंदिर में तीनों पहर बदलता है माता का स्वरुप, दूर-दूर से चमत्कार देखने आते हैं भक्त

atalhind

छह लाख से अधिक हिंदुस्तानियों ने छोड़ी भारतीय नागरिकता: केंद्र

admin

क्या आज़मगढ़ के पलिया गांव में दलितों को सबक सीखने के लिए उनके साथ बर्बरता की गई?

admin

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL