AtalHind
क्राइम (crime)टॉप न्यूज़फरीदाबाद

फरीदाबाद नगर निगम का चीफ इंजीनियर 200 करोड़ के घोटाले में गिरफ्तार

200 करोड़ के घोटाले में फरीदाबाद नगर निगम का चीफ इंजीनियर गिरफ्तार

फरीदाबाद। फरीदाबाद में नगर निगम में हुए 200 करोड़ के घोटाले का आरोपी चीफ इंजीनियर गिरफ्तार हो गया। पुलिस ने चीफ इंजीनियर डीआर भास्कर को देर रात गिरफ्तार कर लिया है।
डीआर भास्कर को अदालत में पेश किया गया जहां से उसे 20 मई तक रिमांड पर दिया गया। हालांकि इस घोटाले में शामिल ठेकेदार को विजिलेंस पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।
Advertisement
पुलिस का दावा है कि भास्कर की गिरफ्तारी से 200 करोड़ के घोटाले से जल्द ही पर्दा उठ जाएगा। इस मामले में शामिल किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा। दरअसल, मुख्य अभियंता ने सिंगापुर, मलेशिया और थाईलैंड देशों की यात्राएं की।
इन यात्राओं के दौरान हवाई जहाज के टिकट से लेकर वहां ठहरने सहित जो भी खर्चा हुआ ठेकेदार सतवीर ने इसके लिए भुगतान किया। यह भुगतान आरटीजीएस के जरिये हुआ। इसका पूरा रिकार्ड विजिलेंस के पास है।
2 मई को मुख्य अभियंता डीआर भास्कर की अग्रिम जमानत याचिका अतिरक्ति सत्र न्यायाधीश डा. पंकज सिंह की अदालत ने रद कर दी थी।
Advertisement
दरअसल निगम अधिकारियों ने ठेकेदार को बिना काम करीब 200 करोड़ रुपये का भुगतान कर दिया। यह सारा जनता का पैसा था, जो विभन्नि वार्डों में विकास कार्यों की एवज में पास हुआ था।
ठेकेदार के साथ मिलकर अधिकारियों ने जनता के इस पैसे का किस तरह दुरुपयोग हुआ, इसकी जानकारी विजिलेंस ने 2 मई को मुख्य अभियंता डीआर भास्कर की अग्रिम जमानत पर सुनवाई के दौरान अतिरक्ति सत्र न्यायाधीश डा. पंकज सिंह की अदालत को दी।
विजिलेंस के डीएसपी पार्थ सारथी ने अदालत को बताया कि मुख्य अभियंता डीआर भास्कर और ठेकेदार सतवीर के बीच गठजोड़ के उनके पास पुख्ता सबूत हैं।
Advertisement
ठेकेदार सतवीर को अधिकारियों ने बिना काम भुगतान किया, इसकी ऐवज में ठेकेदार सतवीर ने मुख्य अभियंता डीआर भास्कर को विदेश यात्राएं कराईं।
Advertisement

Related posts

किरण चौधरी ने खोली कांग्रेस में चल रहे खेल की पोल

atalhind

2022 में देश में हर दिन अपहरण के 294 से अधिक केस सर्वाधिक उत्तर प्रदेश में दर्ज किए गए,

editor

बेरोजगारी की हालत आज जितनी खराब है, स्वतंत्र भारत में इससे पहले कभी नहीं थी

editor

Leave a Comment

URL