AtalHind
कैथलक्राइमटॉप न्यूज़

फरल गांव में ब्लाइंड मर्डर मिस्ट्री को सॉल्व करते हुए सीआईए-1 पुलिस द्वारा 3 आरोपी काबू

crim

फरल गांव में ब्लाइंड मर्डर मिस्ट्री को सॉल्व करते हुए सीआईए-1 पुलिस द्वारा 3 आरोपी काबू
कैथल, 08 दिसंबर (अटल हिन्द/राजकुमार अग्रवाल  ) फरल गांव में अज्ञात युवक की अज्ञात व्यक्तियों द्वारा गोली मारकर हत्या करने की गुत्थी को मात्र 48 घंटे मध्य सुलझाते हुए सीआईए-1 पुलिस द्वारा 3 आरोपियों को गिरफ्तार करने में उल्लेखनीय सफलता हासिल की है। कार्यालय पुलिस अधीक्षक में प्रेस वार्ता दौरान जानकारी देते हुए एसपी मकसूद अहमद ने बताया कि पलविन्द्र सिहं पुत्र भाग सिंह निवासी डेरा भाग सिहं नजदीक गोडा पुली फरल के कथन पर थाना पूंडरी में दर्ज मामले अनुसार 5 दिसंबर को वह सांय के लगभग 06-30 बजे अपने डेरे पर मौजूद था। जो उसे उसी समय बाहर सडक गोडा पुली की तरफ खेतो से पोटाश विस्फोट की आवाज सुनाई दी। जो उसने आवाज सुनकर गेट खोलकर देखा तो गेट के सामने एक नौजवान लड़का खड़ा था। उसके देखते-देखते वह लडका लडखडाते हुए जमीन पर गिर गया। जिसके पेट में गोली लगी थी। शिकायतकर्ता के पूछने पर उस लडके ने अपना पता सोनीपत बताया तथा वह बेहोश हो गया। उसने देखा कि दो नौजवान लड़के फरल की साईड से मोटरसाइकिल पर हवाई फायर करते हुए फरार हो गए। जो उन मोटरसाइकिल पर सवार अज्ञात लडकों ने गोली मारकर उस नाम नामालूम नौजवान लडके की हत्या कर दी। एसपी ने बताया मामले की गंभीरता को देखते हुए जांच सीआईए-1 पुलिस को सौंपी गई थी। जांच दौरान मृतक की पहचान 22 वर्षीय आशीष पुत्र छत्रपाल निवासी गढी सिसाना जिला सोनीपत के रूप में हुई। सीआईए-1 प्रभारी सब इंस्पेक्टर बीरभान की अगुवाई में मामले की जांच दौरान एसआई ईश्वर की टीम द्वारा आरोपी लवदीप उर्फ दीप पुत्र दलजीत निवासी कौत जिला मोगा पजांब, गुरप्रीत उर्फ गोपी पुत्र कश्मीर सिंह निवासी फरल तथा शहनवाज आलम उर्फ बबाब पुत्र रियाज आलम निवासी रामपुर जिला किशनगंज पश्चिम बगांल हाल कुरुक्षेत्र को गिरफ्तार कर लिया गया। एसपी ने बताया कि मृतक आशीष लगभग डेढ महिने से घर से लापता था तथा सोनु निवासी बाली ब्राह्मण गोहाना जिला सोनीपत के माध्यम से लवदीप, गुरप्रीत, शहनवाज के संपर्क में आया था। उक्त आरोपियों से प्रारंभिक पुछताछ दौरान खुलासा हुआ कि लवदीप, गुरप्रित, शहनवाज तथा मृतक आशीष ने मिलकर सोनु निवासी बाली ब्राह्मण गोहाना जिला सोनीपत के कहने पर पटियाला में किसी व्यापारी का मर्डर करना था। जिस संबंध में ये मिलकर रैकी कर चुके थे। 5 दिंसबर को लवदीप व आशीष ने ठेका फरल से शराब ली तथा फरल में ही इकटठा बैठ कर शराब पी थी। जो वहां पर लवदीप व आशीष की आपस में पैसों को लेकर कहासुनी हो गई थी। जिसके बाद मृतक आशीष ने अपना अवैध पिस्तौल निकाल लिया था, जो गुरप्रीत व शाहनवाज ने लवदीप को कहा यह हमें गोली मार सकता है क्यों न हम पहले ही इसे खत्म कर दे। इसके बाद लवदीप ने आशीष को 6 गोलियां मार कर उसकी हत्या करदी। सोनु उपरोक्त द्वारा ही सभी आरोपियों को असला उपलब्ध करवाया गया था। तीनो आरोपी वीरवार को न्यायालय में पेश कर दिए गए, जहां से तीनों आरोपियों को व्यापक पुछताछ के लिए 3 दिन का पुलिस रिमांड हासिल किया गया है। एसपी ने कहा कि अन्य आरोपी जल्द ही पुलिस गिरफ्त में होगे।
Advertisement

Related posts

क्या आज़मगढ़ के पलिया गांव में दलितों को सबक सीखने के लिए उनके साथ बर्बरता की गई?

admin

आखिर भारत के किस प्रधानमंत्री का है पीएम केयर्स फंड ,जिस पर भारत सरकार का भी नियंत्रण नहीं ,

admin

HER JOURNEY BECOMING A WOMAN OF HEART SERIES

atalhind

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL